Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विद्या मितान शिक्षिकाओं ने CM भूपेश को भेजी राखियां, तोहफे में वादा पूरा करने की अपील

रक्षाबंधन में बहनों के हाथों में सजी नियमितीकरण की मेहंदी, 2018 विधानसभा चुनाव में किये वादों की दिलाई याद। पढ़िए पूरी खबर-

विद्या मितान शिक्षिकाओं ने CM भूपेश को भेजी राखियां, तोहफे में वादा पूरा करने की अपील
X

रायपुर। राखी का त्यौहार अब सिर्फ एक दिन दूर है। इस बार कोरोना काल की वजह से राखी के रंग भी फीके होने वाले हैं। बहनें हर बार रक्षाबंधन में अपने भाई की कलाई में रक्षा सूत्र बांधकर उनकी रक्षा का संकल्प लेतीं हैं वहीँ भाई की लम्बी उम्र की कामना भी करतीं हैं। बदले में भाई अपनी बहन को स्नेह भेंट देते हैं। छत्तीसगढ़ में भी राखी का विशेष महत्त्व होता है। छत्तीसगढ़ विद्या मितान कल्याण संघ ने इस रक्षाबंधन कुछ अनोखी मुहीम चलाई है।

छत्तीसगढ़ विद्या मितान कल्याण संघ की शिक्षिकाओं ने प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल को अपनी और से राखियां भेंट की साथ ही उनसे कांग्रेस के वर्ष 2018 विधानसभा चुनाव में बनाए गए जन घोषणा पत्र की तमाम मांगें पूरी करने की अपील की।

साल 2018 में तत्कालीन भाजपा सरकार के शासनकाल में छत्त्तीसगढ़ विद्या मितान कल्याण संघ ने 2,500 विद्यामितानों के नियमितीकरण और सेवा से वंचित साथियों की बहाली के लिए एक बड़ा आंदोलन किया था। उस दौरान वर्तमान में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव खुद विद्या मितानों के आंदोलन स्थल पहुंचे थे और कांग्रेस के जनघोषणापत्र में उनकी मांग सम्मिलित की थी। इसके अलावा सीएम भूपेश बघेल ने भी उनका अनशन तुड़वाया था।

अब विद्यामितान संघ अपने नियमितीकरण और 300 साथियों की बहाली के लिए लगातार प्रशासन से गुहार लगा रहा है। विद्या मितान संघ प्रमुख धर्मेन्द्र दास वैष्णव का कहना है कि संघ सरकार से कुछ अतिरिक्त नहीं बल्कि उनके ही जन घोषणा पत्र के बिंदुओं पर अमल करने की मांग करते हुए इस राखी सीएम को राखी भेंट कर उनका आशीर्वाद नियमितीकरण के रूप में मांग रहें हैं और सब बहनें अपने हाथों में नियमितिकरण की मेहंदी लगाकर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंचायत टी एस सिंह देव, शिक्षा मंत्री प्रेम सिंह टेकाम को ट्वीट कर नियमिति करण के लिए निवेदन कर रहीं हैं।

Next Story
Top