Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

VIDEO: अध्यक्ष जिला कांग्रेस लिखी कार में अवैध शराब बेचने निकला आरोपी, पकड़ाया तो खुला राज...

अम्बिकापुर से अमदला शराब बेचने जाने वाले कोचिये को जब पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर पकड़ा तो कार की नंबर प्लेट पर कांग्रेस जिला अध्यक्ष लिखा होना पाया गया। जिस पर मामला संवेदनशील होने पर पुलिस ने बारीकी से छानबीन की तो सामने आया ये सच.. पढ़िए पूरी ख़बर...

VIDEO: अध्यक्ष जिला कांग्रेस लिखी कार में अवैध शराब बेचने निकला आरोपी, पकड़ाया तो खुला राज...
X

अंबिकापुर: पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर जाल बिछाया तो उसमें जो फंसा वो था अवैध शराब का व्यापारी। लेकिन इससे भी बड़ी बात ये थी की इसके कार में नंबर तो छोटे छोटे लिखे थे ऊपर लिखा था भारी भरकम बड़ा सा जिला कांग्रेस अध्यक्ष सरगुजा। अब पुलिस ने अपनी जांच में कह तो दिया की गलत और फर्जी तरीके से लिखा हुआ था। लेकिन सोचने की बात ये है की न जाने कब से ये कार शहर और प्रदेश में इसी तरह से घूम रही थी। अनैतिक कार्यों में लिप्त थी। कभी किसी कांग्रेसी का ध्यान नहीं गया की ये तो हमारे जिलाध्यक्ष की कार है ही नहीं? बहरहाल बड़ी आम बात होती है गाडी पे PRESS/POLICE लिखवा लेना। भले दूर-दूर तक कोई लेना-देना न हो प्रेस और पुलिस से। अब पुलिस तो तभी जांच करेगी न जब मुखबिर सूचना दे। वरना कहां गाड़ियों पर लिखे पदनाम प्लेट / स्टीकर की वैधता जांची जाती है। इस मामले में भी आरोपी सच में कांग्रेस जिलाध्यक्ष से सम्बद्ध था या नहीं, ये उस कार का मालिक और अड़ोसी पड़ोसी जानते होंगे फिलहाल आरोपी कार समेत गिरफ्त में है। और कार पे लिखा "अध्यक्ष जिला कांग्रेस" वाला नंबर प्लेट आरोपी की वज़ह से शर्मसार हो फोटोग्राफी का हिस्सा बन रहा है।

शराब बेचने कथित जिलाध्यक्ष की कार से निकला आरोपी इस तरह पकडाया

पुलिस के अनुसार अम्बिकापुर की ओर से सफेद रंग की कार CG15CY3002 आते दिखी जो स्टाफ से रूकवा कर चेक करने पर उसमें एक पेटी में भरा 50 नग गोवा कम्पनी की शराब बरामद हुई। कार सवार ने अपना नाम अमित केंवट बताया कार में रखी एक पेटी में भरी 50 नग गोवा कम्पनी की शराब बिक्री के लिये परिवहन करना बताकर पेश किया जबकि आरोपी के पास शराब रखने, बेचने एवं परिवहन करने का कोई पास परमिट नहीं था। इसके अलावा वाहन में प्लेट के उपर अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमिटी सरगुजा छ.ग. लिखाने का भी कोई अधिकार पत्र नहीं होना पाया गया। यह फर्जीवाड़ा आरोपी ने अवैध अंग्रेजी शराब की बिक्री के लिये किया था। कार में छल पूर्वक अध्यक्ष लिखा जाना और बिना पास परमिट के शराब का परिवहन करते पाए जाने पर अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी अमित केवट को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया। देखिए विडियो..

Next Story