Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दहलीज पर घंटों डटी रही विभा सिंह, कड़ी मशक्कत के बाद खुला महल का ताला, अब खुलेंगे राज...

दिवंगत विधायक देवव्रत की दूसरी पत्नी विभा सिंह घंटों तक दरवाजे के सामने डटी रही. महल का दरवाजा खोलने नहीं दे रही थी. महल के बाहर हजारों ग्रामीण जुट चुके थे. ग्रामीण महल के बाहर नारेबाजी करते दिखे.

दहलीज पर घंटों डटी रही विभा सिंह, कड़ी मशक्कत के बाद खुला महल का ताला, अब खुलेंगे राज...
X

खैरागढ़. दिवंगत राजा देवव्रत सिंह के उदयपुर स्थित पैलेस में जड़े गए सरकारी ताला खुलने का सभी बेसब्री से इंतजार कर रहे थे. आख़िरकार महल का ताला खोल दिया गया है. हालांकि ताला खोलने में पुलिस-प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. दिवंगत विधायक देवव्रत की दूसरी पत्नी विभा सिंह घंटों तक दरवाजे के सामने डटी रही. महल का दरवाजा खोलने नहीं दे रही थी. महल के बाहर हजारों ग्रामीण जुट चुके थे. ग्रामीण महल के बाहर नारेबाजी करते दिखे.

देवव्रत सिंह के देहांत के बाद से महल में ताला लगा हुआ था. ऐसा माना जा रहा है कि पैलेस का दरवाजा खुलने के बाद कई सारे राज से पर्दा उठेगा. आज सुबह से ही यहाँ ग्रामीणों की भीड़ जुटने लग गई थी. दोपहर-शाम तक सैकड़ों की संख्या में लोग महल के पास पहुँच गए थे.

राजपरिवार सहित प्रशासन की उपस्थिति में महल का ताला खोला गया. इस दौरान देवव्रत सिंह की बहन उज्ज्वला सिंह, आकांक्षा सिंह मुख्य रूप से उपस्थित थे. इनके अलावा देवव्रत सिंह की पूर्व पत्नी पद्मा देवी सिंह भी मौके पर मौजूद थी.



Next Story