Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रात भर डीजे का कानफोड़ू आवाज झेलने वालों की अनूठी पहल रंग लाई : DJ बजाने वाले के खिलाफ FIR

12 दिसंबर की रात लगभग 10 बजे से सुबह 4 बजे तक DJ का संचालन होता रहा। फिल्मी गानों में लोग झूमते रहे। शोर-शराबे से आसपास के लोग काफी परेशान हो गए थे। जिन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को की थी। फिर क्या हुआ, पढ़िए....

रात भर डीजे का कानफोड़ू आवाज झेलने वालों की अनूठी पहल रंग लाई : DJ बजाने वाले के खिलाफ FIR
X

रायपुर। नवा रायपुर के राखी गांव में रात भर तेज ध्वनि से DJ बजाने वाले के खिलाफ पुलिस ने अब कोलाहल अधिनियम के तहत कार्रवाई की है। इलाके के लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने DJ संचालक पर FIR दर्ज कर ली है। घटना के विवरण के मुताबिक 12 दिसंबर की रात लगभग 10 बजे से सुबह 4 बजे तक DJ का संचालन होता रहा। फिल्मी गानों में लोग झूमते रहे। शोर-शराबे से आसपास के लोग काफी परेशान हो गए थे। जिन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को की थी। मामला नवा रायपुर के राखी थाना क्षेत्र का है।

पता चला है कि DJ संचालक राजू सेन ने राखी इलाके में DJ डांस प्रतियोगिता का आयोजन किया था। इस आयोजन में रात भर DJ बजाने की किसी तरह से कोई प्रशासनिक अनुमति नहीं ली गई थी। बगैर अनुमति के रात भर शोर-शराबा होता रहा। जिससे गुस्साए लोगों ने फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने DJ का साउंड कम करने के साथ बगैर अनुमति के DJ संचालन करने का केवल नोटिस थमा दिया था। लेकिन फिर भी संचालक फुल साउंड के साथ रात भर फिल्मी गाने बजाता रहा। संचालक ने पुलिस से यह भी कहा था कि मेरे पास DJ बजाने की अनुमति है। इसी बात से लोगों में नाराजगी थी।

कार्रवाई न होने से आक्रोशित लोगों ने अपनाया अनूठा तरीका

शिकायत के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो इलाके के लोगों ने रायपुर SP को भी एक आवेदन दिया। इस आवेदन में लिखा गया था कि जैसी अनुमति इस मामले में दी गई है वैसे ही अनुमति हमें भी दें। हम कलेक्टर और SP के बंगले के बाहर ऐसे ही DJ बजा कर कार्यक्रम करना चाहते हैं। अगर अनुमति नहीं दी जा सकती तो राखी में रात भर DJ बजाने वालों पर कार्रवाई करें। इलाके के लोगों की शिकायत के बाद भी पुलिस ने कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखाई थी। इसके बाद बुधवार की सुबह खबर आई कि राखी गांव के पीड़ितों और पुलिस के रवैये से नाराज लोगों ने 19 दिसंबर के लिए DJ बुक लिया। ऐसी खबर www.haribhoomi.com पर प्रकाशित होने के बाद पुलिस अब जाकर सक्रिय हुई है, और कोलाहल अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है।

Next Story