Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आज INH के मंच पर होंगे किसान और उद्दमी, छत्तीसगढ़ पहुंचे राकेश टिकैत और कक्काजी ने कहा पहला यूनिक कार्यक्रम

एक मंच पर किसान, उद्यमी और शासन-प्रशासन के लोग शामिल होंगे, केंद्र सरकार के कृषि कानून विरोधी आंदोलन का प्रमुख चेहरा रहे भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत छत्तीसगढ़ प्रवास पर हैं। किसानों और उद्यमियों को एक मंच पर लाने वाले INH के कार्यक्रम में शामिल होने आए टिकैत ने कांग्रेस के स्थानीय नेताओं, किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और सिख संगठनों से मुलाकात की। पढ़िए पूरी ख़बर...

आज INH के मंच पर होंगे किसान और उद्दमी, छत्तीसगढ़ पहुंचे राकेश टिकैत और कक्काजी ने कहा पहला यूनिक कार्यक्रम
X

रायपुर: आज INH के मंच पर होंगे किसान और उद्दमी, छत्तीसगढ़ पहुंचे राकेश टिकैत और कक्काजी ने कहा ये अपनी तरह का पहला ऐसा यूनिक कार्यक्रम है जो एक मिसाल बनेगा, कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता शामिल होने किसान नेता राकेश टिकैत और शिवकुमार शर्मा ' कक्काजी ' रायपुर पहुंच चुके हैं। कांग्रेस विधायक कुलदीप जुनेजा के यहां पत्रकारों से चर्चा में राकेश टिकैत ने कहा कि दिल्ली का कार्यक्रम सफल रहा। छत्तीसगढ़ के लोगों का भी उसमें बड़ा सहयोग रहा। संयुक्त किसान मोर्चा में जो तय होता था, उसके आधार पर रायपुर और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग जिलों में कार्यक्रम होते थे। इस दौरान उन्होंने दो टूक कहा, सरकार जिन फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) घोषित करती है उसे लीगलाइज कर दे। बाद में दूध और सब्जियों की MSP पर भी बात होती रहेगी।

टिकैत आज INH के शामिल होंगे इस कार्यक्रम में में विशेष अतिथि के रूप में कषिमंत्री रविंद्र चौबे और पर्व कृषिमंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी शामिल होंगे। कार्यक्रम का आयोजन होटल ग्रांड इम्पीरिया में दोपहर 12.30 बजे से होगा। कार्यक्रम में शामिल होने रायपुर पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने इस आयोजन को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की है । उन्होंने कहा कि किसानों और उद्यमियों को एक मंच पर लाने का पहल स्वागतयोग्य है ।

टिकैत ने कहा, अभी भी MSP का एक बड़ा सवाल बचा हुआ है। मीडिया और सरकारों के जरिए यह बात जनता के बीच पहुंच गई है। अब आगे सरकार से बातचीत कर उसका समाधान निकालेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार अभी जितनी फसलों के लिए MSP घोषित करती है उसे ही लीगलाइज कर दे।

इधर कक्काजी ने भी कार्यक्रम की सराहना की। उन्होंने कहा आईएनएच न्यूज और हरिभूमि मीडिया समूह ने लगातार किसान आंदोलन की खबरों को प्रमुखता से प्रसारित कर जनसरोकारों के प्रति प्रतिबद्धता निभाई है। अब इस आयोजन के माध्यम से किसानों और उद्यमियों को एक मंच पर लाकर एक बार फिर सार्थक पहल करने जा रहे हैं। यह बेहद यूनिक पहल है। छत्तीसगढ़ के कृषिमंत्री रविंद चौबे ने भी कार्यक्रम को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि किसान और उद्यमी देश के विकास के दो केंद्र है। आमतौर पर किसानों की बात सीधे उद्योग जगत तक पहुंच नहीं पाती। ऐसे में आईएनएच के माध्यम से एक बड़ा मत मिलने जा रहा है। यह आयोजन एक दो प्रमुख वर्गों के बीच संवाद की सार्थक कड़ी साबित होगा। इस पहल के माध्यम से किसानों को उद्यनी समझेगे, उद्यमी को किसान।

Next Story