Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तीसरी लहर का कहर : नेता प्रतिपक्ष सहित 2400 संक्रमित, इन जिलो में बढ़ा संक्रमण...

गुरुवार को प्रदेश भर में संक्रमण के 2400 नए मामले सामने आए थे। छत्तीसगढ़ में कोरोना का पहला मरीज मिलने के 169 दिनों के बाद एक दिन में केस दो हजार के पार पहुंचने शुरू हुए थे। पढ़िये पूरी अपडेट-

तीसरी लहर का कहर : नेता प्रतिपक्ष सहित 2400 संक्रमित, इन जिलो में बढ़ा संक्रमण...
X

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर पैर पसार रही है। गुरुवार को प्रदेश भर में संक्रमण के 2400 नए मामले सामने आए थे। छत्तीसगढ़ में कोरोना का पहला मरीज मिलने के 169 दिनों के बाद एक दिन में केस दो हजार के पार पहुंचने शुरू हुए थे। दूसरी लहर का पीक खत्म होने के 210 दिन यानी करीब 7 महीने बाद यह आंकड़ा फिर से दो हजार पार कर गया है।

छत्तीसगढ़ में कोरोना का पहला मामला 18 मार्च 2020 को सामने आया था। 2 सितंबर को पहली बार ऐसा हुआ जब एक दिन में दो हजार से अधिक संक्रमित मिले थे। 14 अक्टूबर को पहली लहर का पीक आया। 29 अक्टूबर को 2005 मरीज मिले थे। इसके बाद केवल एक बार आंकड़ा दो हजार के पार पहुंचा। इसके 140 दिन बाद 24 मार्च 2021 को 2 हजार 106 मरीज मिले।

यह दूसरी लहर की शुरुआत थी। केवल 30 दिनों में यानी 23 अप्रैल को मिले 17 हजार 397 मरीजों के साथ दूसरी लहर अपने पीक पर थी। उसके बाद ढलान शुरू हुई। 17 अप्रैल को प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर एक लाख 30 हजार 460 पहुंच गई। यह कोरोना मरीजों की सर्वाधिक संख्या थी। कोरोना की इस तीसरी लहर को विशेषज्ञ तीन गुना अधिक संक्रामक बता रहे हैं।

राजधानी में सबसे अधिक संक्रमित

पहली और दूसरी लहर की तरह तीसरी लहर में भी रायपुर संक्रमण का हॉटस्पॉट बना हुआ है। गुरुवार को यहां 752 नए मरीज मिले। बिलासपुर में 326, दुर्ग में 314, रायगढ़ में 247, जशपुर में 144, जांजगीर-चांपा में 126 और कोरबा में 122 नए संक्रमित मिले हैं। राजनांदगांव, सरगुजा, कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर में भी मरीजों की संख्या बढ़ी है। केवल 9 जिलों में एक से 9 तक मरीज मिले।

नेता प्रतिपक्ष भी चपेट में

छत्तीसगढ़ में गुरुवार को 48 हजार 832 नमूनों की जांच हुई। इसमें 2400 मरीज मिले। इस मान से प्रदेश में औसत संक्रमण दर 4.91% तक पहुंच गई। रायपुर में संक्रमण दर सर्वाधिक 11.17% तक पहुंच गई। बिलासपुर, रायगढ़, दुर्ग, जांजगीर-चांपा, कोरबा, जशपुर, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में भी संक्रमण दर 4% के पार पहुंच गई है। शेष 19 जिलों में यह 4% से कम रही है। गुरुवार को नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। लक्षण दिखने के बाद उन्होंने जांच कराई थी। संक्रमण की पुष्टि हो जाने के बाद कौशिक ने खुद को आइसोलेट कर लिया है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की जांच रिपोर्ट इसी सप्ताह पॉजिटिव आई थी।

Next Story