Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रेम त्रिकोण में बर्बाद हुई तीन युवकों की जिंदगी : दो ने मिलकर तीसरे की चाकू मारकर जान ली, पुलिस के शिकंजे में फंसे दोनो

कोतवाली पुलिस के अनुसार मृतक और विजय व सनी के बीच प्रेम प्रसंग में विवाद हुआ और दोनों ने मिलकर दीपक को मौत के घाट उतार दिया। पढ़िए पूरी ख़बर..

प्रेम त्रिकोण में बर्बाद हुई तीन युवकों की जिंदगी : दो ने मिलकर तीसरे की चाकू मारकर जान ली, पुलिस के शिकंजे में फंसे दोनो
X

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा शहर के मोतीसागर पारा बस्ती में राजेश कुमार शांडिल्य का 18 वर्षीय बेटा दीपेश कल अचानक लापता हो गया। शाम को कोतवाली पुलिस को परिजनों ने सूचना दी कि किसी लड़के का फोन आन के बाद दीपक हड़बड़ा कर घर से निकला और वापस नहीं लौटा। गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखकर पुलिस और दीपक के परिजन उसे तलाश रहे थे। सोमवार की सुबह रेलवे कॉलोनी के पास रेल पथ के किनारे दीपक का रक्तरंजित शव मिला। दीपक पर चाकू से कई वार किए गए थे। कोतवाली पुलिस के अनुसार मृतक और विजय व सनी के बीच प्रेम प्रसंग में विवाद हुआ और दोनों ने मिलकर दीपक को मौत के घाट उतार दिया। गिरफ्तार किए गए दोनों युवकों से पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि दीपक की हत्या में जिस चाकू के इस्तेमाल हुआ था उसे नहर में फेंक दिया गया है। पुलिस ने उस चाकू को भी तलाशने का असफल प्रयास किया। बहरहाल अवयस्क प्यार और उम्र ने एक किशोर को मौत की नींद सुला दी, वहीं दो नवयुवक अब कानून के शिकंजे में फंसकर अपनी जिंदगी तबाह कर चुके हैं।

Next Story