Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सस्ते आलू प्याज के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का पर्दाफाश

व्यापार विहार के व्यापारी को कम दाम में प्याज भेजने का झांसा देकर कमीशन एजेंट ने 86 हजार की धोखाधड़ी कर ली थी। व्यापारी ने इसकी शिकायत तारबाहर थाने में की थी। पुलिस जुर्म दर्ज कर आरोपित की तलाश कर रही थी। आलू-प्याज के थोक व्यापारी मोहन मोटवानी से ठगी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने मध्यप्रदेश के सागर से किया गिरफ्तार। पढ़िए पूरी ख़बर..

सस्ते आलू प्याज के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का पर्दाफाश
X

बिलासपुर: व्यापार विहार के व्यापारी को कम दाम में प्याज भेजने का झांसा देकर कमीशन एजेंट ने 86 हजार की धोखाधड़ी कर ली थी। व्यापारी ने इसकी शिकायत तारबाहर थाने में की थी। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर आरोपित की तलाश कर रही थी। विनोबा नगर में रहने वाले मोहन मोटवानी आलू-प्याज के थोक व्यापारी हैं। 12 दिसंबर की सुबह उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से काल आया। फोन करने वाले ने खुद का परिचय मध्य प्रदेश के सागर जिला अंतर्गत बहरिया के कमीशन एजेंट के रूप में दिया। उसने व्यापारी को नौ स्र्पये प्रति किलो की दर से प्याज भेजने की बात कही। साथ ही अपने कमीशन के संबंध में चर्चा की।

चार लोगों के खाते में मंगाए स्र्पये

आरोपित अनिल पटेल ने व्यापारी मोहन को कम दाम में प्याज भेजने का झांसा दिया। साथ ही सौदा नकद में करने की बात कही। इस पर व्यापारी ने सौदा तय कर एजेंट के बताए एकाउंट में अपने और कर्मचारियों के खाते से अलग-अलग कर 86 हजार 500 स्र्पये भेज दिए। उन्होंने अपने कर्मचारी बरखा के खाते से भी स्र्पये अनिल के बताए खाते में भेज दिए। इस तरह एजेंट ने चार लोगों के खाते में 86 हजार स्र्पये मंगाने के बाद फोन बंद कर दिया था। ठगी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने मध्यप्रदेश के सागर से गिरफ्तार किया है।

स्र्पये मिलने के बाद एजेंट अनिल पटेल ने प्याज भरे ट्रक को रवाना कर देने की बात कही। उसने प्याज भरे वाहन का फोटो भी व्यापारी को भेजा। सोमवार की सुबह ट्रक नहीं पहुंचने पर व्यापारी ने एजेंट को फोन लगाया। इस पर वह व्यापारी को गुमराह करने लगा। बाद में वह गाली-गलौज पर उतारू हो गया। व्यापारी ने इसकी शिकायत तारबाहर थाने में की थी। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी। ठगी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने मध्यप्रदेश के सागर से गिरफ्तार किया है।

Next Story