Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नकली नक्सली बनकर डकैती डालने वाला निकला फरार CAF जवान

छत्तीसगढ़ के कांकेर में नक्सली बनकर डकैती डालने पहुंचे बदमाशों के दो अन्य साथियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। राजनांदगांव की 8वीं बटालियन में है पदस्थ। नक्सली बनकर डकैती डालने पहुंचा था CAF जवान:3 माह से था लापता। फरार 2 साथी भी गिरफ्तार। पढ़िए पूरी ख़बर...

नकली नक्सली बनकर डकैती डालने वाला निकला फरार CAF जवान
X

कांकेर: नक्सली बनकर डकैती डालने पहुंचे बदमाशों के दो अन्य साथियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए डकैतों में एक CAF (छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स) का जवान है। वह राजनांदगांव की 8वीं बटालियन में पदस्थ है और 3 माह से कैंप से लापता था। सभी आरोपी फर्जी नक्सली बनकर लूटपाट कर रहे थे।इस मामले में ग्रामीण 3 आरोपियों को पकड़ कर पहले ही पुलिस को सौंप चुके हैं।

दरअसल 10 जनवरी की रात करीब 2 बजे गुरदाटोला गांव निवासी चमरू कवाची के घर कुछ लोग पहुंचे और दरवाजा खटखटाया। दरवाजा खुलते ही हाथ में नकली बंदूक, फरसा, आरी ब्लेड और अन्य हथियार लिए 5 लोग लाल सलाम कहते हुए घर में घुस गए। बदमाशों ने डेढ़ लाख रूपए की मांग की थी। उनके हाव-भाव देख चमरू और उसका भाई चमरा उनसे भिड़ गए। इसके बाद 3 डकैतों को ग्रामीणों के सहयोग से पकड़ लिया था। पकड़े गए आरोपियों से मिले मोबाइल नंबर और बाइक के नंबर तक पुलिस भागे हुए बदमाशों तक पहुंची। दोनों आरोपियों की पहचान कोड़ेकुर्से के उईकाटोला निवासी सेवराम जाड़े और प्रवीण तारम के रूप में हुई। आरोपियों में राजनांदगांव निवासी संतोष गुप्ता और बालोद निवासी शिवा ठाकुर व जितेंद्र कुमार रामटेके शामिल हैं। इनमें जितेंद्र कुमार रामटेके CAF का जवान है। जबकि बदमाशों के दो अन्य साथी वहीं अपनी बाइक छोड़कर भाग निकले।

Next Story