Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सिविल कांट्रैक्टर की संदिग्ध मौत, कर्ज से परेशान था, हत्या या खुदकुशी जांच का विषय

फांसी पर झूलते एक कांट्रैक्टर के शव को पुलिस ने जैसे ही नीचे उतार उसके मोबाइल को चालू किया उसमें लगातार फोन आने लगे। यह फोन घर वालों के नहीं बल्कि उन्हीं लेनदारों के थे जिनसे प्रबीर राय ने कर्ज ले रखा था। मामला ब्याज का है या नहीं पुलिस इस बात की जांच करेगी। पढ़िए पूरी ख़बर...

सिविल कांट्रैक्टर की संदिग्ध मौत, कर्ज से परेशान था, हत्या या खुदकुशी जांच का विषय
X

दुर्ग: भिलाई नगर टीआई एमएल शुक्ला ने बताया कि अयोध्या नगर निवासी सिविल कांट्रैक्टर प्रबीर राय (47) कर्ज के बोझ तले दबा हुआ था, दरअसल नगर में प्रबीर राय नाम के सिविल कांट्रैक्टर का फांसी पर झूलता शव मिला, शव को पुलिस ने नीचे उतारा और जैसे ही उसके मोबाइल को चालू किया उसमें एक के बाद एक फोन आने लगे। यह फोन किसी और के नहीं बल्कि उन्हीं लेनदारों के थे जिनसे प्रबीर राय ने कर्ज ले रखा था। बार-बार लेनदारों के फोन और घर में तागादेदारों के पहुंचने से वह फोन बंद करके शनिवार को घर से बिना किसी को कुछ बताए चला गया था और फिर तीन दिन तक घर ही नहीं लौटा। चौथे दिन मंगलवार सुबह सेक्टर-7 गैरेज रोड कोसानाला के पास एक पेड़ पर रस्सी से फंदा बनाकर उसने फांसी लगा ली। जांच में उसके शरीर पर कही चोट के निशान नहीं मिले। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में मामला सुसाइड का लगता है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा। पुलिस को मौके से उसकी गाड़ी मिली है, जिसे उसने जब्त कर लिया है।

मामला स्मृति नगर थाना क्षेत्र का है।

टीआई ने बताया कि प्रबीर राय पेशे सिविल कांट्रैक्टर था। उसने एक निजी अस्पताल का काम लिया था। उसके निर्माण के दौरान उनसे अलग-अलग लोगों से करीब 12 लाख रुपए से अधिक का कर्ज ले लिया था। कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से वह काफी परेशान था और संभवतः इसी वजह से उसने ऐसा कदम उठाया। पुलिस मोबाइल जब्त कर उसका कॉल डिटेल निकाल रही है। इसके बाद उसे बार-बार फोन करने वालों से भी पूछताछ की जाएगी।

Next Story