Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सूरजपुर : दरहोरा के जंगल में मिला हाथी का शव, मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम

सूरजपूर जिले के अंतर्गत प्रतापपुर वन परिक्षेत्र दरहोरा के जंगल में हाथी का शव मिला है। सूचना मिलते ही डीएफओ (DFO) टीम मौके पर पहुंची। हाथी के मरने के कारण का अभी तक पता नहीं चल पाया है। विभाग का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही इस संबंध में कोई जानकारी मिल सकेगी। पढ़िए पूरी खबर-

सूरजपुर : दरहोरा के जंगल में मिला हाथी का शव, मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम
X

सूरजपूर। प्रदेश के सूरजपूर जिले के अंतर्गत प्रतापपुर वन परिक्षेत्र दरहोरा के जंगल में हाथी का शव मिला है। इस बात की सूचना वहां के नजदीकी ग्रामीणों ने वन विभाग को दी। सूचना मिलते ही डीएफओ (DFO) टीम मौके पर पहुंची।

वन विभाग अधिकारियों ने बताया कि मरे हुए हाथी की उम्र 30 से 35 साल थी। हाथी के मरने के कारण का अभी तक पता नहीं चल पाया है। विभाग का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही इस संबंध में कोई जानकारी मिल सकेगी। फिलहाल मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

प्रदेश में हाथियों के मौत की खबर कोई नई बात नहीं है। इससे पहले भी कई हाथियों की मौत हो चुकी है। राज्य में हाथियों की सिलसिलेवार मौत होने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रभावित वन मंडलों से एक-एक अधिकारियों को शामिल करते हुए 10 लोगों की टीम बनाने का निर्देश दिया था और टीम को हाथियों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए कहा गया है।

हालांकि राज्य के उत्तर क्षेत्र के सरगुजा, कोरबा, सूरजपुर, रायगढ़, जशपुर और कोरिया जिले के घने जंगलों में बसे गांवों में हाथियों और स्थानीय लोगों के बीच संघर्ष होने की खबरें भी अक्सर आती रहती हैं। इस बीच हाथियों के हमले से कई बार लोगों की जानें चली जाने की खबरें आती हैं तो कभी हाथियों द्वारा खेतों में घुसकर फसल खराब करने की खबर।

Next Story