Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेडिकल कॉलेजों में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में शुरू होगी पढ़ाई, ऐसे लगेगी क्लास

कोरोना इमरजेंसी की वजह से स्थगित मेडिकल काॅलेजों में पढ़ाई पुन: प्रारंभ किए जाने की तैयारी है। माना जा रहा है कि दिसंबर के दूसरे सप्ताह से काॅलेजों में कक्षाएं लगनी प्रारंभ होे जाएंगी। रायपुर मेडिकल काॅलेज की कक्षाएं 14 दिसंबर से लगेंगी तथा राजनांदगांव में 16 दिसंबर से पढ़ाई शुरू होगी और बाकी काॅलेजों में भी शीघ्र ही इस पर फैसला लिया जाएगा।

मेडिकल कॅालेजों में पढाई दिसंबर के दूसरे सप्ताह में होगी शुरू, जानें पूरा विवरण
X

 मेडिकल कॉलेज (प्रतीकात्मक फोटो)

कोरोना इमरजेंसी की वजह से स्थगित मेडिकल काॅलेजों में पढ़ाई पुन: प्रारंभ किए जाने की तैयारी है। माना जा रहा है कि दिसंबर के दूसरे सप्ताह से काॅलेजों में कक्षाएं लगनी प्रारंभ होे जाएंगी। रायपुर मेडिकल काॅलेज की कक्षाएं 14 दिसंबर से लगेंगी तथा राजनांदगांव में 16 दिसंबर से पढ़ाई शुरू होगी और बाकी काॅलेजों में भी शीघ्र ही इस पर फैसला लिया जाएगा।

कोरोना संक्रमण की शुरुआत के बाद मेडिकल काॅलेजों में लगने वाली कक्षाएं स्थगित कर दी गई थीं, जिसके कारण विद्यार्थी अपनी पढ़ाई में पिछड़ने लगे थे। इसे लेकर केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के आधार पर कक्षाएं लगाने पर जोर दिया जा रहा था। पिछले दिनों केंद्र स्तर पर सभी राज्योें के मुख्य सचिवों को सभी मेडिकल काॅलेजों में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए निर्धारित गाइडलाइन का पालन करते हुए 1 दिसंबर से खोलने का आग्रह किया गया था।

इस बारे में एनएमसी को भी विस्तृत दिशा-निर्देश दिया गया था। इस आधार पर चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से सभी चिकित्सा महाविद्यालय को आदेश जारी किया गया था कि कक्षाएं प्रारंभ करने के साथ नॉनकोड्स बेड भी पर्याप्त संख्या में उपलब्ध कराए जाएं। इस आदेश के बाद मेडिकल काॅलेजों में आगे की कक्षाएं प्रारंभ करने की तैयारी शुरू कर ली गई है।

सूत्रों के मुताबिक रायपुर के शासकीय मेडिकल काॅलेज में 14 तथा राजनांदगांव मेडिकल काॅलेज में 16 दिसंबर से कक्षाएं प्रारंभ होगी। वहीं सिम्स बिलासपुर में कक्षाएं प्रारंभ करने के लिए जल्द ही बैठक होगी। सूत्रों का दावा है कि दूसरे पखवाड़े में सभी मेडिकल काॅलेजों में कक्षाएं प्रारंभ हो जाएंगी। इस बारे में आयुष विश्वविद्यालय के कुलसचिव डा. राजेश हिशीकर ने बताया कि राज्य शासन के निर्देश के अनुसार चिकित्सा महाविद्यालयों को 1 दिसंबर से काॅलेज खोलने के निर्देश दिए गए थे।

अन्य विधाओं की कक्षाएं भी शुरू होने की उम्मीद

मेडिकल काॅलेज खुलने के बाद डेंटल, आयुर्वेद, नर्सिंग काॅलेजों में भी पढ़ाई स्थगित है। माना जा रहा है कि मेडिकल काॅलेजों के साथ अन्य काॅलेजों में भी लंबित कक्षाएं पुन: प्रारंभ होने की उम्मीद है। तमाम चिकित्सा विधाओं की कक्षाएं पुन: प्रारंभ करने के लिए कांग्रेस के चिकित्सा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डा. राकेश गुप्ता द्वारा लगातार शासन से निवेदन किया जा रहा था।

Next Story