Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम, मंत्री, विधायकों और अफसरों के बंगलों में सांप

नोवा नेचर वेलफेयर सोसायटी से जुड़े मोईज खान के मुताबिक उनकी टीम के पास सांप निकलने तथा उसे सुरक्षित स्थान पर छोड़ने के लिए रोज 30 से ज्यादा काॅल आ रहे हैं। कॉल करने वालों में सभी वर्ग के लोग शामिल हैं। रिहायशी इलाकों के घरों में ज्यादातर निकलने वाले विषहीन सांप मिले हैं।

सीएम, मंत्री, विधायकों और अफसरों के बंगलों में सांप
X

रायपुर. बारिश शुरू होते ही रायपुर के सभी इलाकों में सांपों के निकलने का सिलसिला शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री, मंत्री के बंगलों से लेकर विधायक के साथ आईएएस, आईपीएस अफसर के घर शामिल हैं। पूर्व की तरह सांपों को मारने की बजाय लोग अब सांप को पकड़कर जंगल या सुरक्षित जगहों पर छोड़ने के लिए एक्सपर्ट की मदद भी ले रहे हैं।

नोवा नेचर वेलफेयर सोसायटी से जुड़े मोईज खान के मुताबिक उनकी टीम के पास सांप निकलने तथा उसे सुरक्षित स्थान पर छोड़ने के लिए रोज 30 से ज्यादा काॅल आ रहे हैं। कॉल करने वालों में सभी वर्ग के लोग शामिल हैं। रिहायशी इलाकों के घरों में ज्यादातर निकलने वाले विषहीन सांप मिले हैं। इससे लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। जिस जगह पर सांप रहे उस जगह पर लोगों की भीड़ एकत्रित करने और सांप को छेड़ना नहीं चाहिए। अपने स्तर पर प्रयास करना चाहिए की सांप को बगैर किसी तरह के नुकसान पहुंचाए सुरक्षित घर से जाने का रास्ता देना चाहिए।

सांपों को लेकर बढ़ी जागरूकता

मोईज के अनुसार सभी वर्गों में सांपों को लेकर जागरूकता बढ़ी है। लोग सांपों को मारने की बजाय नोवा नेचर सहित अन्य सांप पकड़ने वाली संस्था को कॉल कर सुरक्षित ले जाने के लिए कहते हैं। मोईज का कहना है कि उनकी संस्था सांपों को रेस्क्यू करने के बाद शहर से दूर सुनसान जगह पर जंगल या झाड़ियों में छोड़ देती है।

डॉयल 112 में सांप पकड़ने कॉल

घरों में सांप निकलने पर लोग डॉयल 112 में काल कर मदद की गुहार लगाते हैं। साथ ही अपने आस-पास रहने वाले लोगों से सांप पकड़ने वाले लोगों से मदद मांगते हैं। नोवा नेचर सोसायटी से जुड़े लोगों के मुताबिक सांप रेस्क्यू करने उनकी टीम शहर के अलग-अलग जगहों में कार्य करती है। साथ ही जिन लोगों के घरों में सांप निकलता है, उस स्थिति में लोग उनकी संस्था के 7354444422 में कॉल कर मदद मांग सकते हैं।

सीएम हाउस में धामन, एयरपोर्ट पर जहरीला नाग

नोवा नेचर सोसायटी के मुताबिक एक पखवाड़े पूर्व उनकी एक टीम ने मुख्यमंत्री निवास में लगभग चार फीट धामन सांप को रेस्क्यू किया है। इसी तरह वीआईपी रोड आईपीएस अफसर के निवास पर धामन सांप को रेस्क्यू किया है।

कुछ दिन पहले मंत्री जय सिंह अग्रवाल, विधायक देवेन्द्र यादव, देवती कर्मा के साथ वन अफसरों के निवास तथा मेडिकल कालेज, रविशंकर विश्व विद्यालय परिसर में अलग-अलग प्रजाति के सांपों को रेस्क्यू किया है। इसी तरह स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट में जहरीला नाग को रेस्क्यू किया गया है।

इस वजह से निकल रहे सांप

जानकारों के मुताबिक बारिश के दिनों में उमस की वजह से सांप गर्मी सहन नहीं कर सकते इस वजह से सांप बिल से निकलकर ठंडी और सुरक्षित जगह की तलाश में घरों में पहुंच जाते हैं। इसमें सभी प्रजाति को सांप शामिल होते हैं। सांप ऐसे घरों में ज्यादातर निकलते हैं जहां गार्डन और झाड़ियां रहती हैं।

Next Story