Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिक्षाकर्मी संगठन का नाम बदला, अब कहलाएगा शालेय शिक्षक संघ

बीजापुर में शिक्षकों ने मनाया संविलियन दिवस, एक-दूसरे को दी बधाइयां। पढ़िए पूरी खबर-

शिक्षाकर्मी संगठन का नाम बदला, अब कहलाएगा शालेय शिक्षक संघ
X

बीजापुर। 1 जुलाई 2018 को लगभग एक लाख बीस हजार शिक्षाकर्मियों का तात्कालीन रमन सरकार द्वारा संविलयन कर पूर्ण शिक्षक का दर्जा दिया गया, इसलिए प्रतिवर्ष शिक्षाकर्मियों द्वारा 1 जुलाई को संविलियन दिवस मनाया जाता है।

इसी तारतम्य में बीजापुर जिला मुख्यालय मे संघ के जिला सचिव कैलाश रामटेके, जिला महामंत्री वसीम खान, ब्लाक अध्यक्ष विजय चापड़ी संघ के सक्रिय सदस्य अरुण सिंग आदि ने संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर के स्टेचू के समक्ष केक काटकर संविलियन दिवस मनाया और एक दूसरे को केक खिलाया।

वहीं भैरमगढ़ ब्लाक में जिलाध्यक्ष प्रहलाद जैन और ब्लाक अध्यक्ष शिव कुमार पूनेम, अमृतलाल ठाकुर, रघुराम सोनवानी, स्वाति गौराहा और जैनो कुंजाम आदि ने वृक्षारोपण कर संविलियन दिवस मनाया।

ब्लाक उसूर के अध्यक्ष तेलम लच्छमैया और सचिव अनिल झाड़ी ने बताया कि सभी शिक्षकों ने आपस में एक-दूसरे को बधाई देकर संविलियन दिवस मनाया।

ब्लाक भोपालपटनम के ब्लाक अध्यक्ष करन सिंह ने बताया कि सभी साथी शिक्षकों ने केक काटकर एक-दूसरे का मुँह मीठा कर संविलियन दिवस मनाया। इस अवसर पर एट्टी राजन्ना, हुंगाराम गोंदी, हरीश उप्पल, राकेश ठाकुर, दुर्गेश नेताम, नंद कुमार सिन्हा, परमेश्वर पाटिल आदि शिक्षक उपस्थित थे।

इसके साथ ही प्रांताध्यक्ष वीरेन्द्र दुबे ने वर्चुअल बैठक लेकर बताया कि वर्तमान मुख्यमंत्री की घोषणा कि 1 जुलाई 2020 को समस्त बचे हुए शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया जायेगा, के साथ ही प्रदेश से अब शिक्षाकर्मी शब्द समाप्त होता है, इसलिए अब शालेय शिक्षा कर्मी संघ को अब छग शालेय शिक्षक संघ के नाम से जाना जायेगा। जिसका पंजीयन क्रमाँक 122202049545 है। छ्ग शालेय शिक्षक संघ ने उम्मीद जतायी है कि सरकार अपनी घोषणा के अनुरूप जल्द ही बचे हुए शिक्षकों के लिए संविलियन आदेश जारी करेगी।

Next Story