Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रायगढ़ विधायक के प्रतिनिधि पर गंभीर आरोप : सस्पेंड महिला सब इंजीनियर ने छेड़छाड़, धमकी और प्रताड़ना के लगाए आरोप

महिला सब इंजीनियर सोनल जैन ने का आरोप है कि साल 2019 में जनपद पंचायत बरमकेला में पोस्टिंग के दौरान विधायक प्रतिनिधि अरुण शर्मा ने सरकारी काम में दखल दिया। गलत वैल्यूएशन करने को कहा गया, मैंने इंकार कर दिया तो मुझे विधायक की धौंस दिखाई। महिला ने इस दौरान छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगाया है। ये कितना गंभीर मामला है, पढ़िए...

रायगढ़ विधायक के प्रतिनिधि पर गंभीर आरोप : सस्पेंड महिला सब इंजीनियर ने छेड़छाड़, धमकी और प्रताड़ना के लगाए आरोप
X

रायपुर। रायगढ़ से कांग्रेस के विधायक प्रकाश नायक के एक करीबी शख्स पर महिला सब इंजीनियर ने गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला सब इंजीनियर सोनल जैन ने रायपुर में मीडिया के सामने आकर दावा किया है कि साल 2019 में रायगढ़ की जनपद पंचायत बरमकेला में पोस्टिंग के दौरान विधायक के प्रतिनिधि अरुण शर्मा ने सरकारी काम में दखल दिया। सोनल ने बताया कि मुझे गलत वैल्यूएशन करने को कहा गया, मैंने इंकार कर दिया तो मुझे विधायक की धौंस दिखाई। महिला ने इस दौरान छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगाया है। सोनल जैन ने कहा कि अरुण शर्मा ने बार-बार मेरा हाथ पकड़ने की कोशिश की और धमकाते हुए बोला कि मैं अंजाम भुगतने को तैयार रहूं।

सब इंजीनियर सोनल का दावा है कि इसके बाद मैंने रायगढ़ जनपद पंचायत सीईओ को इस घटना की जानकारी देकर शिकायत की। विधायक के लोगों ने मुझ पर शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया। तब मैंने रायगढ़ के सरिया थाने में भी अपनी शिकायत का आवेदन दिया मगर आवेदन लौटा दिया गया। मुझे मेरे डिपार्टमेंट से हटाकर दूसरी जगह अटैच कर दिया गया, मगर मेरे साथ बदसलूकी करने वालों पर कोई कार्रवाई आज तक नहीं की गई। सोनल बताती हैं कि कुछ महीनों बाद महिला आयोग में शिकायत की वजह से अरुण शर्मा पर FIR हुई, लेकिन कुछ मामूली केस बनाकर मामले को दबाने का प्रयास किया गया। अब सोनल चाहती हैं कि अरुण के साथ उसे शह देने वाले अफसरों पर भी कार्रवाई हो।

स्वतंत्रता समारोह में किया था हंगामा

उल्लेखनीय है कि आरोप लगाने वाली सब इंजीनियर सोनल वही महिला हैं जन्होंने पिछले साल रायगढ़ जिले में मिनी स्टेडियम में आयोजित स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में अचानक पहुंचकर हंगामा कर दिया था। सोनल यहां कलेक्टर के सामने मंच की तरफ जाने की जिद करते हुए पुलिसकर्मियों से झगड़ने लगीं थीं। कलेक्टर भीम सिंह तब समझाइश देने महिला कर्मचारी के पास पहुंचे। मगर गुस्साई सोनल जैन ने किसी की नहीं सुनी उन्होंने कहा कि मैं इस्तीफा देने आई हूं, किसी से बात मुझे नहीं करनी। पुलिस से झूमाझटकी करने की वजह से सोनल को तब गिरफ्तार किया गया था। अब डिपार्टमेंट ने भी सोनल को सस्पेंड कर दिया है। मीडिया में अपने साथ हुई घटना का जिक्रकर सोनल जैन ने सरकार से न्याय दिलाने की अपील भी की है।

Next Story