Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बच्ची के गले में हंसिया टिकाकर लुटेरों ने लूटे 5 लाख कैश व जेवरात

15 वर्षीय बच्ची ने बताई लूट की कहानी

बच्ची के गले में हंसिया टिकाकर लुटेरों ने लूटे 5 लाख कैश व जेवरात
X

राजिम. राजिम शहर में दिन दहाड़े करीब दोपहर 12 बजे दो लोगों ने डेली नीड्स दुकान के संचालक भोजराम साहू के घर में एक बड़ी लूट को अंजाम दिया है। बताया जा रहा है कि लुटेरों ने साहू की बेटी के गले पर हंसिया टिकाकर जान से मारने की धमकी देते हुए घर में रखे 60 हजार के जेवरात सहित करीब 5 लाख कैश लूट लिए और फरार हो गए। जब लूट हुई घर में सिर्फ संचालक की पत्नी, उसकी 15 वर्षीय बेटी और उसका छोटा लड़का ही घर पर था। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी भोजराम पटेल भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस ने आस-पास के थानों को सूचित करते हुए नाकाबंदी की है। समाचार लिखे जाने तक अज्ञात लुटेरों के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

मां-बेटे व बेटी को किया कमरे में बंद

इस दौरान लुटेरों ने घर में उपस्थित सदस्यों की जानकारी पूछी, जिस पर बच्ची ने बताया कि घर उसके अलावा उसकी मम्मी और छोटा भाई है। इसके बाद लुटेरों ने उपस्थित सभी सदस्यों को घर के एक कमरे में ले गए, और जान से मारने की धमकी देते हुए घर में रखे रुपयाें व जेवरात की मांग करने लगे। जिसके बाद बच्ची की मम्मी ने अपने गले का मंगलसूत्र और कान में पहनी हुई ईयर रिंग उन्हें तुरंत उतारकर दे दी। इसके बाद लुटेराें को परिवार ने अलमारी में रखे करीब 5 लाख कैश को भी लुटेरों को साैंप दिया। जिसके बाद लुटेरों ने कमरे में रखे मोबाइल को उठाया और उन्हें कमरे में बंद कर वहां से भाग निकले।

जान बचाने के लिए सौंपे पैसे

लुटेरों के जाने के बाद घर में ही रखे दूसरे मोबाइल से बालिका ने अपने पापा भोजराम साहू को घटना की जानकारी दी। वहीं कमरे की खिड़की से चिल्लाकर पड़ोसियों को से सहायता मांगी। बालिका की मां लक्ष्मी साहू ने बताया कि उनके जाने के बाद भी हम डरे और सहमे हुए हैं। यदि उन्हें मैं सोने के जेवरात और रूपये नहीं देती तो वे उस समय कुछ भी कर सकते थे। डर के मारे उन्हें पैसे और सोने देने में ही अपनी भलाई समझी।

बच्ची के दरवाजा खोलते ही गले में टिका दी हंसिया

घटना के संदर्भ में मौके पर उपस्थित बालिका ने बताया कि दोपहर 12 बजे के करीब दो नकाबपोश बदमाश मेन गेट को लांघ अचानक घर के अंदर घंसे, फिर दूसरे नंबर के जालीदार दरवाजे को उन्होंने खटखटाया, बच्ची ने बाहर निकलकर उनकी पहचान पूछी। जवाब में उन्होंने बच्ची से कोई बक्सा लाने की बात कही। इससे पहले बच्ची उनसे कुछ और पूछ पाती लुटेरों ने झट से बच्ची की गर्दन पर हंसिया टिका दिया और घर के अंदर प्रवेश कर गए।

लुटेरों की मोटर साइकिल सीसीटीवी में कैद

राजिम टीआई रामकुमार साहू ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही उन्होंने उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत कराकर तुरंत घटना स्थल की पहुंचे। दोनों लुटेरे मोटसाइकिल से राजिम पहुंचे थे, बताया जा रहा है कि वे फिंगेश्वर के रास्ते होते हुए राजिम आए। और घटना को अंजाम देकर पितईबंद, बकली, रांवड़, परसदा होते हुए फरार हो गये, ये सारे दृश्य फिंगेश्वर से लेकर राजिम और बकली के सीसीटीवी कैमरे में स्पष्ट दिख रहा है। फुटेज में गाड़ी का नंबर और कौन सी गाड़ी है ये स्पष्ट नजर नहीं आ रहा है। पुलिस का कहना है कि लुटेरों को जल्द से जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Next Story
Top