Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तीसरी लहर के बीच बंदिशें शुरू, अगले 24 घंटे में रेस्टोरेंट, चौपाटी और शराब बिक्री पर नया नियम

प्रदेश में तीसरी लहर के बीच बंदिशें शुरू, नाइट चौपाटी पर फिर ब्रेक, रेस्टोरेंट,चौपाटी पे अगले 24 घंटे में कोविड प्रोटोकॉल का नया नियम, चखना सेंटरों पर अचानक ताले, अवैध रूप से खुलने वाले चखना सेंटरों की भीड़ से संक्रमण का खतरा बढ़ने के आसार हैं। आने वाले दिनों में जिला प्रशासन की नई गाइडलाइन के बाद फिर से शराब बिक्री की टाइमिंग प्रभावित हो सकती है। पढ़िए पूरी ख़बर..

तीसरी लहर के बीच बंदिशें शुरू, अगले 24 घंटे में रेस्टोरेंट, चौपाटी और शराब बिक्री पर नया नियम
X

रायपुर: कोरोना विस्फोट के बाद अब प्रदेश के कई जिलों में नई गाइडलाइन फिर से लागू करने फरमान जारी हुआ है। इसी बीच राजधानी में भी बंदिशें लगाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। मंगलवार को जिला प्रशासन ने रात के बाजार पर पूर्ण पाबंदी लगाने के संकेत दिए हैं। अगले 24 घंटे के भीतर नया आदेश लागू कर दिया जाएगा। रात में संभवत: 8 बजे या 10 बजे के बाद शटर बंद रखने के सख्त नियम लागू किए जाएंगे। जिला प्रशासन की नई गाइडलाइन के बाद एक बार फिर बड़े बाजार, फुटकर बाजार और मॉल-शराब दुकानों के साथ रेस्टोरेंट के लिए नियम बदलेंगे। अपर कलेक्टर एनआर साहू से बातचीत में फिलहाल नाइट कर्फ्यू की पुष्टि हीं हुई है, लेकिन उन्होंने व्यवस्था बदले जाने के संकेत दे दिए हैं। दूसरी लहर में उपजे हालात पर पूरी तरह से कंट्रोल रखने की तैयारियों के बीच सामान्य प्रशासन की ओर से नई गाइडलाइन जारी हो चुकी है। इसके मद्देनजर अब रायपुर शहर में भी नए प्रोटोकॉल नियम लागू करने अफसरों की बैठकें बुलाई गई हैं। बताया गया है कि जिला प्रशासन की ओर से व्यापारिक संगठनों से चर्चा करने के बाद नया आदेश लागू कर दिया जाएगा। चैंबर ऑफ काॅमर्स के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई गई है।

चौपाटी-ठेले खोमचे नहीं खुलेंगे

अगर सख्त नियम लागू किया गया तो ठेला-खोमचे में सजने वाली चौपाटी पर बंदिश लगाई जाएगी। शहर के कई ऐसे पब्लिक स्पॉट ऐसे हैं, जहां पर नाइट चौपाटी लगती है। दो साल लॉकडाउन का समय गुजरने के बाद अनलॉक शहर में कोविड प्रोटोकॉल नियम के तहत कारोबार की अनुमति दी गई थी, लेकिन एक बार फिर नए संकेत हैं कि नाइट चौपाटियों पर फिर लिमिट टाइम का फरमान लागू होगा।

चखना सेंटरों पर अचानक ताले

आबकारी विभाग ने जिले में शराब दुकानों के आसपास खुलने वाले अवैध चखना सेंटरों पर तालाबंदी कर दी है। अघोषित तौर पर चखना सेंटर समेटने सख्त निर्देश दिए जाने के बाद कई जगहों से काउंटर भी हटाए गए हैं। अवैध रूप से खुलने वाले चखना सेंटरों की भीड़ से संक्रमण का खतरा बढ़ने के आसार हैं। आने वाले दिनों में जिला प्रशासन की नई गाइडलाइन के बाद फिर से शराब बिक्री की टाइमिंग प्रभावित हो सकती है।

Next Story