Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राखी, तीजा-पोरा पर बहन-बेटियां न गांव आएंगी, न जाएंगी, पंचायत की बैठक में बनी सहमति

कोरोना संक्रमण को देखते हुए ग्रामीणों ने लिया फैसला

राखी, तीजा-पोरा पर बहन-बेटियां न गांव आएंगी, न जाएंगी, पंचायत की बैठक में बनी सहमति
X

रायपुर. राजधानी से लगे हुए ग्राम पंचायत नरदहा में रहने वाले लोगों ने राखी, तीज और पोला पर्व पर गांव में महिलाओं के आने-जाने पर पाबंदी लगा दी है। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए गांव की पंचायत ने यह कड़ा फैसला लिया है। करीब 5 हजार की आबादी वाले इस ग्राम पंचायत में लगभग 15 सौ महिलाएं हैं। कोरोना संक्रमण में महामारी के रोकथाम के उद्देश्य से लिए गए इस फैसले का क्षेत्र की महिलाओं ने भी समर्थन किया है।

कोरोना को देखते हुए ग्राम पंचायत में इस निर्णय को लेेने के लिए बैठक का आयोजन नहीं किया गया, लेकिन ग्रामीण और पंचायत के प्रतिनिधियों ने आपसी चर्चा के माध्यम से इस फैसले पर सहमत हुए हैं। ग्राम पंचायत के सरपंच नरेंद्र वर्मा ने बताया कि यह निर्णय कोरोना महामारी से बचाव में कारगर साबित हो सकता है। इस निर्णय का गांव के वरिष्ठ ग्रामीणों ने भी स्वागत किया है। इसमें गांव के भागवत प्रसाद साहू, पोतराम साहू, टेकचंद साहू, तेजराम साहू, श्यामलाल साहू , उदेराम साहू, दसरथ साहू, घासीराम साहू, हेमलाल यादव, शिवदयाल वर्मा पुनाराम साहू व अन्य ग्राम वासियों ने भी अपनी सहमति जताई है, जिसके बाद पूरे गांव में इस निर्णय को लागू किया गया है।

20 वार्डों में हांका

पंचायत के निर्णय को ग्रामीणों तक पहुंचाने के लिए गांव में कोटवार बिहारीलाल ने 20 वार्डों में हांका भी दे दिया है। सूचना देने के बाद पूरे गांव में यह नियम लागू कर दिया गया है। जिसकी जानकारी ग्राम में रहने वाले अन्य सभी लोगों को दे दी गई है।

Next Story
Top