Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

22 जिलों में एक-एक करोड़ रुपये की लागत से बनेंगे राजीव भवन, राजीव जयंती पर रखी जाएगी आधारशिला

छत्तीसगढ़ के 22 जिले, जहां कांग्रेस कार्यालय नहीं हैं, वहां कार्यालय बनाने का निर्णय पार्टी ने लिया है। सभी जिलों के कांग्रेस भवन का डिजाइन राजधानी रायपुर में बने मुख्य कार्यालय राजीव भवन की तरह होगा। प्रत्येक जिले में इसके लिए 5 हजार वर्गफुट जमीन सरकारी दर पर खरीदी जाएगी। इसमें करीब 4800 वर्गफुट में निर्माण कराया जाएगा। इसके निर्माण में लगभग 1 करोड़ के खर्च का अनुमान लगाया गया है। इसमें आधे से ज्यादा कीमत की जमीन होगी, बाकी खर्च निर्माण कार्य पर होगा।

22 जिलों में एक-एक करोड़ रुपये की लागत से बनेंगे राजीव भवन, राजीव जयंती पर रखी जाएगी आधारशिला
X

रायपुर. छत्तीसगढ़ के 22 जिले, जहां कांग्रेस कार्यालय नहीं हैं, वहां कार्यालय बनाने का निर्णय पार्टी ने लिया है। सभी जिलों के कांग्रेस भवन का डिजाइन राजधानी रायपुर में बने मुख्य कार्यालय राजीव भवन की तरह होगा। प्रत्येक जिले में इसके लिए 5 हजार वर्गफुट जमीन सरकारी दर पर खरीदी जाएगी। इसमें करीब 4800 वर्गफुट में निर्माण कराया जाएगा। इसके निर्माण में लगभग 1 करोड़ के खर्च का अनुमान लगाया गया है। इसमें आधे से ज्यादा कीमत की जमीन होगी, बाकी खर्च निर्माण कार्य पर होगा।

यहां पर राजीव भवन की तरह सभी विभागों के कार्यालय और एक मीटिंग हाल की व्यवस्था होगी। सभी जिलों के भवन का नाम भी राजीव गांधी के नाम पर होगा।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने राजीव भवन कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस के जिला एवं शहर अध्यक्षों के साथ बैठक कर जिला मुख्यालय में बनने वाले कांग्रेस दफ्तर भवन निर्माण के संबंध में चर्चा की। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती 20 अगस्त को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद राहुल गांधी और प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया की उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के 22 जिला मुख्यालयाें में कांग्रेस भवन का भूमिपूजन करेंगे।

पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने बताया कि अब जिलों में भी कांग्रेेस कार्यालयों का निर्माण किया जाएगा। विपक्ष में रहते हुए हम सभी ने राजधानी में भव्य कार्यालय राजीव भवन का निर्माण किया। ऐसे में आज हम सरकार में हैं, तब भी 22 जिलाें में सभी के सहयोग से भव्य कार्यालयों का निर्माण किया जाएगा। जिला कांग्रेस अध्यक्षों के साथ शनिवार को हुई बैठक में भूमि आवंटन से लेकर कार्यालयों के निर्माण के संबंध में महत्वपूर्ण चर्चा हुई है।

बैठक में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष धनेंद्र साहू, कृषिमंत्री रविन्द्र चौबे, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन, प्रदेश उपाध्यक्ष गुरुमुख सिंह होरा, प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला, वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेंद्र तिवारी, संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी सहित सभी जिला अध्यक्ष शामिल हुए।जिला कार्यकारिणी का नए सिरे से होगा गठनसंगठन को गति देने के लिए बैठक में मुख्यमंत्री ने मार्गदर्शन दिया। उन्होंने पूर्व में कांग्रेस के संगठन को बतौर प्रदेश अध्यक्ष बखूबी संचालित किया है। उन्होंने कहा कि चुनाव आते-जाते रहते हैं, लेकिन संगठन का कामकाज सतत चलते रहना चाहिए। इसी दिशा में अब पार्टी आगे बढ़ेगी। सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने के लिए संगठन का काम करेगा। यह हम सभी की जिम्मेदारी है। उन्होंने जिलों में नई कार्यकारिणी बनाने को लेकर अध्यक्षों को जिम्मेदारी दी है।

Next Story