Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

8-8 फुट गहरे कमलविहार के गड्ढ़े, चैंबर के ढक्कन गायब, जानलेवा बन गए स्पाट

रायपुर विकास प्राधिकरण के ड्रीम प्रोेजेक्ट कमलविहार में अंडरग्राउंड सीवरेज के लिए सड़क पर बनाए गए चैंबर के ढक्कन असामाजिक तत्व पार कर रहे हैं। 700 मीटर के दायरे में दर्जनभर चैंबर में लगाए गए कास्ट आयरन के महंगे ढक्कन गायब हो गए। इसकी वजह से मेन गेट वाली सड़क पर 8-8 फीट के जानलेवा गड्ढे उभर गए हैं। इसे जल्द पैक नहीं किय तो लोगों के लिए यह जानलेवा साबित होते देर नहीं लगेगी।

8-8 फुट गहरे कमलविहार के गड्ढ़े, चैंबर के ढक्कन गायब, जानलेवा बन गए स्पाट
X

सड़क (प्रतीकात्मक फोटो)

रायपुर विकास प्राधिकरण के ड्रीम प्रोेजेक्ट कमलविहार में अंडरग्राउंड सीवरेज के लिए सड़क पर बनाए गए चैंबर के ढक्कन असामाजिक तत्व पार कर रहे हैं। 700 मीटर के दायरे में दर्जनभर चैंबर में लगाए गए कास्ट आयरन के महंगे ढक्कन गायब हो गए। इसकी वजह से मेन गेट वाली सड़क पर 8-8 फीट के जानलेवा गड्ढे उभर गए हैं। इसे जल्द पैक नहीं किय तो लोगों के लिए यह जानलेवा साबित होते देर नहीं लगेगी। हालांकि कमलविहार रेसीडेंस एसोसियेशन द्वारा आरडीए के अफसरों को इस बात से अवगत करा दिया गया है पर आज तक दर्जनभर चैंबर के ढक्कन नहीं लग पाए।

कमलविहार के मुख्य गेट से 700 मीटर के दायरे में अंडरग्राउंड सीवरेज के लिए सड़क पर बनाए गए चैंबर से ढक्कन गायब हैं। बिना ढक्कन वाले चैंबर 8 से 10 फीट गहरे हैं। ऐसे में बारिश के समय गड्ढे में पानी भरने और अंधेरा होने पर राहगीर से लेकर दोपहिया चालक जाने-अंजाने में जानलेवा गड्ढे में गिरकर जान गंवा सकते हैं। कमलविहार में 500 मकान बनकर तैयार हैं 300 मकान निर्माणधीन हैं ऐसे में वहां रहने वाले लोगों की जान की सुरक्षा के प्रति लापरवाही को लेकर प्राधिकरण की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं।

कमलविहार रेसीडेंस एसोसियेशन के संरक्षक आशीष भट्टाचार्य का कहना है कि कमलविहार की सुरक्षा और चैंबर से ढक्कन गायब होने को लेकर प्राधिकरण के अध्यक्ष से लेकर वहां के आला अधिकारी तक आग्रह कर चुके हैं पर समस्या जस की तस है।

स्ट्रीट लाइट की मानिटरिंग नहीं हो रही

कमलविहार में लगाए गए स्ट्रीट लाइट की मानिटरिंग का कोई सिस्टम आरडीए आज तक नहीं बना पाया। इसकी वजह से कई लाइटें इस समय खराब हैं। इस ओर ध्यान देने की जरूरत है।


00000000000000000001

और पढ़ें
Next Story