Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छात्रावास में दरिंदगी पर सियासत: अजय चंद्राकर ने राज्य सरकार पर उठाए सवाल, गृहमंत्री को हटाने की रखी मांग

छात्रावास में दरिंदगी पर सियासत: अजय चंद्राकर ने राज्य सरकार पर उठाए सवाल, गृहमंत्री को हटाने की रखी मांग
X

रायपुर। राज्य के सुदूर उत्तर पूर्व जिले जशपुर के एक दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र में दरिंदगी का मामला अब राजधानी में गरमाने लगा है। इस पर अब रंग चढ़ा भी शुरू हो गया है। विपक्षी दल भाजपा राज्य में बेटियों की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर रहे हैं। इसी कड़ी में पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने राज्य सरकार पर तंज कसा है। चंद्राकर ने कहा है कि जशपुर कांड से आपकी यश पताका पूरे देश में फहरा रही है, कलेक्टरों को हटाने से क्या होगा? गृह मंत्री की इस्तीफे से कम कुछ भी स्वीकार नहीं है। पंडो या अन्य पिछड़ी जनजाति के लोग प्रदेश में रहते हैं, क्या आप जानते हैं? उल्लेखनीय है कि जशपुर जिले में समर्थ आवासीय दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र में एक दिव्यांग बच्ची से रेप और छेड़छाड़ की वारदात उजागर हुई है। नाबालिग दिव्यांग छात्राओं से आधी रात दो कर्मचारियों ने कुकर्म किया है। इतना ही नहीं दिव्यांग छात्राओं के कपड़े फाड़कर परिसर में दौड़ाया गया है। इस घटना के बाद सीएम भूपेश बघेल ने अपनी कड़ी नाराजगी जाहिर की थी। हालांकि राज्य सरकार ने एक्शन लेते हुए सोमवार को जशपुर कलेकटर महादेव कावरे को हटा दिया गया है। राज्य सरकार ने सुरक्षा के लिए और भी कई कदम उठाने के निर्देश जिला प्रशासन को दिए हैं।

Next Story