Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पांडेय VS पांडेय खेमेबाजी का असर : निर्गुट जितेंद्र वर्मा बनाए गए दुर्ग BJP के जिलाध्यक्ष, विधायक दल के स्थाई सचिव पद की जिम्मेदारी भी संभालते रहेंगे

जितेंद्र वर्मा गुजबाजी से दूर रहेकर पार्टी का काम करने के नाम से जाने जाते हैं। इस बार यह जिम्मेदारी दोनों भाजपा सांसदों या भाजपा के दिग्गज नेताओं के करीबी को नहीं दी गई। संगठन ने इस बार खुद जिलाध्यक्ष का नाम तय किया है। पढ़िए पूरी खबर...

पांडेय VS पांडेय खेमेबाजी का असर : निर्गुट जितेंद्र वर्मा बनाए गए दुर्ग BJP के जिलाध्यक्ष, विधायक दल के स्थाई सचिव पद की जिम्मेदारी भी संभालते रहेंगे
X

भिलाई। छत्तीसगढ़ में प्रमुख विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने पाटन विधान सभा के झाड़मोखली गांव के निवासी जितेंद्र वर्मा को जिला अध्यक्ष बनाया है। जितेंद्र वर्मा गुजबाजी से दूर रहेकर पार्टी का काम करने के नाम से जाने जाते हैं। इस बार यह जिम्मेदारी दोनों भाजपा सांसदों या भाजपा के दिग्गज नेताओं के करीबी को नहीं दी गई। संगठन ने इस बार खुद जिलाध्यक्ष का नाम तय किया है।

उल्लेखनीय है कि जितेंद्र पिछले 8 सालों से भाजपा विधायक दल के स्थायी सचिव हैं। वे जिलाध्यक्ष के साथ-साथ अपनी पुरानी जिम्मेदारी को भी निभाएंगे। दुर्ग जिले में पांडेय VS पांडेय की खेमेबाजी के चलते पार्टी लगातार कमजोर होती जा रही थी। पिछले दिनों जेल भरो आंदोलन में भाजपा सांसद सरोज पांडेय, उनके भाई राकेश पांडेय और प्रेम प्रकाश पांडेय गुट के बीच आपसी खींचतान खुलकर उजागर हुई थी। भाजपा की बैठक तक में सांसद सरोज पांउेय के भाई राकेश पांडेय ने दुर्ग सांसद विजय बघेल को आड़े हाथों लिया था। वहीं जेल भरो आंदोलन के दिन तो आमसभा में लगे बैनर से प्रेम प्रकाश पाण्डेय व कुछ बड़े नेताओं के नाम और फोटो तक गायब कर दिए गए थे। इसी सब खींचतान को देखते हुए संगठन खुद अपने नेता को जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी है। जितेंद्र वर्मा को डॉ. शिवकुमार तोमर की जगह जिलाध्यक्ष बनाया गया है। तोमर लंबे समय से अमेरिका में हैं। उन्होंने अपने निजी कार्य के चलते संगठन से इस्तीफा दिया है।

और पढ़ें
Next Story