Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जनपद कोटा में शत प्रतिशत महिला मेट का आदेश, पुरुष अभ्यर्थी कर रहे विरोध

ज़िला पंचायत बिलासपुर के रोजगार गारंटी योजना के तहत शत-प्रतिशत महिला मेट की न्युक्ति का आदेश दिया गया है। ऐसे में गांव के पुरुष अभ्यर्थी आदेश का विरोध कर बराबरी का हक मांग रहे हैं। पढ़िए पूरी खबर-

हिमाचल न्यूज: कोरोना काल में संकटमोचन बनी मनरेगा,एक लाख से अधिक लोगों को गांव में मिला रोजगार
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिलासपुर। ज़िला पंचायत बिलासपुर के रोजगार गारंटी योजना के तहत मेट के चयन प्रक्रिया में बड़ा बदलाव किया गया है। जिसमें शत-प्रतिशत महिला मेट की न्युक्ति की जानी है। ऐसे में पुरुष अभ्यर्थी आदेश का विरोध कर बराबरी का हक मांग रहे हैं।

दरअसल, मामला कोटा जनपद पंचायत का है, जहां रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत कार्यों के लिए महिला मेट के ही नियुक्ति का आदेश दिया गया है। ऐसे में गांव के बेरोजगार युवा प्रशासन के इस आदेश का विरोध कर रहे हैं और ये मांग कर रहे हैं कि मेट न्युक्ति में पुरुषों को भी बराबर का हक दिया जाए और शत प्रतिशत महिला मेट का जो आदेश है, जनपद कोटा प्रशासन उसे वापस लें।




मामले में जनपद पंचायत कोटा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एम के यादव ने कहा कि शासन के आदेशानुसार ही ग्राम पंचायतो में शत प्रतिशत महिला मेट की न्युक्ति होनी है। वहीं अध्यक्ष सरपंच संघ कोटा मनोहर लाल ध्रुव का कहना है कि रोजगार गारंटी कार्य के मेट नियुक्ति में शत प्रतिशत महिला मेट की नियुक्ति तर्क संगत नहीं है, इसमें पुरुषों को भी बराबर का हक देना चाहिए।

Next Story