Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बार के लिए भी ऑनलाइन टोकन, ई-पेमेंट के बाद मिलेगा शराब-बीयर का पार्सल

प्रदेश में शराब के लिए ऑनलाइन होम डिलीवरी का सिस्टम लागू होने के बाद आबकारी विभाग ने अब बार संचालकों के लिए ई-टोकन की नई व्यवस्था की तैयारी शुरू कर दी है। बार में स्टॉक की सप्लाई के लिए अब सब कुछ ऑनलाइन सिस्टम के जरिए होगा। बार संचालक ई-पेमेंट करने के बाद स्टॉक की मात्रा बताएंगे, इसके बाद आबकारी विभाग की तरफ से बार में शराब और बीयर का स्टॉक पहुंचाया जाएगा। लॉकडाउन में ऑनलाइन सिस्टम का रिस्पांस देखते हुए आबकारी विभाग में अब तैयारी शुरू कर दी गई है।

बार के लिए भी ऑनलाइन टोकन, ई-पेमेंट के बाद मिलेगा शराब-बीयर का पार्सल
X

रायपुर. प्रदेश में शराब के लिए ऑनलाइन होम डिलीवरी का सिस्टम लागू होने के बाद आबकारी विभाग ने अब बार संचालकों के लिए ई-टोकन की नई व्यवस्था की तैयारी शुरू कर दी है। बार में स्टॉक की सप्लाई के लिए अब सब कुछ ऑनलाइन सिस्टम के जरिए होगा। बार संचालक ई-पेमेंट करने के बाद स्टॉक की मात्रा बताएंगे, इसके बाद आबकारी विभाग की तरफ से बार में शराब और बीयर का स्टॉक पहुंचाया जाएगा। लॉकडाउन में ऑनलाइन सिस्टम का रिस्पांस देखते हुए आबकारी विभाग में अब तैयारी शुरू कर दी गई है।

शराब दुकानों में पिक-अप व्यवस्था में ऑनलाइन बुकिंग देने वालों को काउंटर से शराब दी जा रही है। इसी तर्ज पर बार संचालकों को भी ई-पेमेंट होने के बाद आर्डर रजिस्ट्रेशन दिखाना होगा। ऐसा करते ही बार के नाम पर डिलीवरी पूरी कर दी जाएगी। बार संचालकों की ओर से कम से कम दो लाख रुपए तक की शराब की डिमांड ऑनलाइन तरीके से पूरी हो पाएगी। लॉकडाउन में आबकारी विभाग ने काउंटर से ऑनलाइन शराब डिलीवरी का सिस्टम बनाया था। दुकानों में होने वाली गड़बड़ी पर अंकुश लगाने के साथ शराब के अवैध कारोबार पर काफी हद तक नियंत्रण किया गया। आबकारी ने ऑनलाइन सिस्टम से बार-बार सर्वर पर दबाव बढ़ने के बाद इसका लिंक भी बढ़ा दिया। लिंक ज्यादा होते ही शराब की बुकिंग करने वालों का नेटवर्किंग ट्रैफिक कम हो सका। अब इसी ट्रैक पर बार वालों के लिए नया सिस्टम बनाया जा रहा है।

काउंटर-ऑनलाइन दोनों ऑप्शन

प्रदेश की तमाम शराब दुकानों पर काउंटर ओपन किए जाने के बाद ऑनलाइन ट्रैक पर बुकिंग जारी रखने फैसला लिया गया है। इसी कड़ी में ऑनलाइन आर्डर देने वालों को पिकअप के सिस्टम में बोतलें दी जा रही हैं। काउंटर ओपन होने के बाद मोबाइल से बुकिंग आर्डर दिखाए जाने के बाद अलग से सिस्टम बनाया गया है। ऑनलाइन सिस्टम में किसी तरह की गड़बड़ी करना आसान नहीं है। ऑनलाइन सिस्टम से फायदा आबकारी विभाग के राजस्व को बढ़ाने में हुआ है।

एक करोड़ से ज्यादा ई-पेमेंट

आबकारी विभाग के खाते में ऑनलाइन सिस्टम में एक कराेड़ रुपए से ज्यादा आवक ई-पेमेंट के जरिए हुई है। लॉकडाउन के वक्त ऑनलाइन बुकिंग के सिस्टम में शौकीनों ने शराब की बुकिंग कराई। दो से ढाई महीने के भीतर एक करोड़ रुपए से ज्यादा की शराब बिक्री ऑनलाइन सिस्टम के जरिए हुई। ऑनलाइन शराब डिलीवरी के सिस्टम में यह रकम बहुत ज्यादा है। आर्डर इतने मिले थे कि बुकिंग के हिसाब से शराब की डिलीवरी 50 प्रतिशत तक ही हो पाई थी।

नया सिस्टम जल्द

ऑनलाइन शराब डिलीवरी के सिस्टम में अब बार के लिए भी अलग से इंतजाम किए जाएंगे। बार संचालक ऑनलाइन स्टॉक की बुकिंग करा सकेंगे। डिजिटल तरीके से पेमेंट किए जाने के बाद बार में स्टॉक की सप्लाई के लिए आर्डर किए जाएंगे।

- एपी त्रिपाठी, एमडी, सीएसएमसीएल

Next Story