Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुपेबेड़ा में किडनी पीड़ित एक और ने तोड़ा दम, अब तक 77 की मौत

जिले के किडनी प्रभावित सुपेबेड़ा गांव में कल रात एक और मौत हो गई। 45 वर्षीय जयसन पटेल किडनी की बीमारी से चल बसा। इसी के साथ गांव में इस बीमारी से मौत का आंकड़ा बढ़कर 77 हो गया है। जानकारी के अनुसार गांव का जयसन पटेल लंबे समय से किडनी की बीमारी से जूझ रहा था। हाल फिलहाल में ओडिशा में उनका आयुर्वेदिक इलाज चल रहा था।

सुपेबेड़ा में किडनी पीड़ित एक और ने तोड़ा दम, अब तक 77 की मौत
X

गरियाबंद/मैनपुर. जिले के किडनी प्रभावित सुपेबेड़ा गांव में कल रात एक और मौत हो गई। 45 वर्षीय जयसन पटेल किडनी की बीमारी से चल बसा। इसी के साथ गांव में इस बीमारी से मौत का आंकड़ा बढ़कर 77 हो गया है। जानकारी के अनुसार गांव का जयसन पटेल लंबे समय से किडनी की बीमारी से जूझ रहा था। हाल फिलहाल में ओडिशा में उनका आयुर्वेदिक इलाज चल रहा था। कुछ समय से उसकी तबियत काफी नाजुक बनी हुई थी और इसी बीच कल उसकी मौत हो गई। मौत के बाद गांव में एक बार फिर मातम पसर गया। गांव में किडनी की बीमारी से मौत का ये सिलसिला विगत 5 सालों से जारी है। पूर्व की भाजपा सरकार और वर्तमान कांग्रेस सरकार सुपेबेड़ा वासियों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाती रही है, मगर गांववासियों को अबतक स्वच्छ पेयजल तक मुहैय्या नहीं हो पाया।

आखिर क्यों हो रही बीमारी

बताया जा रहा है कि गांव में किडनी की बीमारी क्यों फैल रही है, शासन के पास इसकी भी कोई पुख्ता जानकारी नहीं है। ऐसे में सरकार द्वारा बीमारी की रोकथाम को लेकर क्या प्रयास किए गए होंगे, सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ग्रामीणों ने एक बार फिर सरकार से बीमारी के कारणों का पता लगाने, उसकी रोकथाम करने और शुद्ध पेयजल की व्यवस्था की मांग की है।

Next Story