Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिस प्रबंधक पर होनी थी कार्यवाही, उसी को दिया समितियों का प्रभार- लाखों रुपये गबन करने वाले पर अधिकारी मेहरबान

रामपुर धान खरीदी केंद्र जब अपने अस्तित्व में आया और जहां पहली बार जब धान की खरीदी की गयी उस वक़्त खरीदी के दौरान वहां के समिति प्रबंधक सनलित कुशवाहा सहित अन्य जिम्मेदारों की मिलीभगत से 2615 किवंटल धान शार्टेज हो गया था। जिसकी कीमत लगभग पैंसठ लाख से भी ज्यादा थी। इस आरोप की अभी जांच हुई भी नहीं की फिर से इस साल उसी अधिकारी को एक से भी ज्यादा धान खरीदी केंद्र की जिम्मेदारी दे दी गई। पढ़िए पूरी ख़बर...

जिस प्रबंधक पर होनी थी कार्यवाही, उसी को दिया समितियों का प्रभार- लाखों रुपये गबन करने वाले पर अधिकारी मेहरबान
X

भैयाथान: रामपुर धान खरीदी में हुए गड़बड़झाला को लेकर एक दावा किया गया जिसमें जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अधिकारियों ने कठोर कार्यवाही होने का भरोसा दिलाया तो दूसरी ओर उप पंजीयक सहकारी संस्थायें के अधिकारी ने उस भरोसे को ठेंगा दिखा दिया।

दरअसल मामला वर्ष 2020-21 का है जब नवनिर्मित रामपुर धान खरीदी केंद्र अपने अस्तित्व में आया जहां पहली बार धान की खरीदी की गयी उस वक़्त खरीदी के दौरान वहां के समिति प्रबंधक सनलित कुशवाहा सहित अन्य जिम्मेदारों के मिलीभगत से 2615 किवंटल धान शार्टेज हो गया जिसकी कीमत लगभग पैंसठ लाख से भी ज्यादा था जिसे जिम्मेदारों ने गबन कर लिया। इतने बड़े राशि के गबन का मामला जब जिला सहकारी केंद्रीय बैंक ओड़गी के शाखा प्रबंधक तक पहुंचा तो उंन्होने समिति प्रबंधक सहित दो अन्य दोषियों पर कार्यवाही के लिए संयुक्त पंजीयक सरगुजा संभाग व उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं सुरजपुर को पत्र प्रेषित किया पर किसी भी अधिकारी ने इस विषय पर संज्ञान नही लिया। समय पर कार्यवाही न होने के कारण जिला सहकारी केंद्रीय बैंक अम्बिकापुर के मुख्यकार्यपालन अधिकारी ने बीते 25 नवम्बर को पुनः उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं सूरजपुर को कार्यवाही हेतु पत्र भेजा जिसे भी उप पंजीयक ने अनदेखा करते हुए दोषी प्रबंधक सनलित कुशवाहा को पुनः रामपुर का प्रभार सौंपते हुए दो अन्य समिति सोनपुर व शिवप्रसादनगर का प्रबंधक बना दिया दोषी प्रबंधक को भैयाथान के आलावा तीन अन्य समितियों का प्रभार मिलते ही यह मामला लोगों के बीच मे चर्चा का विषय बनकर रह गया है। लोगों ने तो विभागीय अधिकारियों पर दोषियों से मिलीभगत कर उन्हें बचाने तक का आरोप लगाना प्रारम्भ कर दिया है।

रामपुर खरीदी केंद्र में धान शार्टेज पाया गया है- मुख्यकार्यपालन अधिकारी सुनील सोढ़ी।

इस संबंध में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के मुख्यकार्यपालन अधिकारी सुनील सोढ़ी ने बताया कि वर्ष 2020-21 में रामपुर खरीदी केंद्र में धान शार्टेज पाया गया है जिसमे समिति प्रबंधक सहित दो अन्य पर कार्यवाही करने हेतु उप पंजीयक अधिकारी सूरजपुर को पत्र भेजा गया है इन पर कार्यवाही करने का अधिकार उप पंजीयक अधिकारी का है।

दोषीयों पर धारा 58 के तहत राशि वसूली सहित कड़ी कार्यवाही की जाएगी- उप पंजीयक अधिकारी गौरीशंकर शर्मा।

वहीं इस संबंध में उप पंजीयक अधिकारी गौरीशंकर शर्मा का कहना कि रामपुर धान खरीदी केंद्र में धान शार्टेज व राशि गबन करने का पत्र प्राप्त हुआ है, जिस पर जांच की जाएगी। जांच उपरान्त जो भी दोषी पाये जाएंगे उनपर धारा 58 के तहत राशि वसूली सहित कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

Next Story