Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नेतागिरी का नशा : विधायक के बेटे ने थाने में घुसकर पुलिस जवान और ट्रक ड्राइवर को पीटा, FIR हुई लेकिन नेता पुत्र को रात में ही छोड़ा

जब ड्राइवर शिकायत करने थाने पहुंचा तो विधायक पुत्र ने पुलिस थाने के भीतर घुसकर आरक्षक को ही पीट दिया। पिटाई भी ऐसी कि एकआत थप्पड़ नहीं, बल्कि आरक्षक का चेहरा सूजा हुआ दिख रहा है। पढ़िए पूरी खबर...

नेतागिरी का नशा : विधायक के बेटे ने थाने में घुसकर पुलिस जवान और ट्रक ड्राइवर को पीटा, FIR हुई लेकिन नेता पुत्र को रात में ही छोड़ा
X

रायगढ़। एक पुरानी हिंदी फिल्म का बड़ा ही लोकप्रिय गाना है, गाने का मुखड़ा कुछ इस तरह का है.. सैंया भए कोतवाल... अब डर काहे का... कुछ इसी तरह की सोच आजकल छत्तीसगढ़ में कुछ नेताओं के रिश्तेदारों की हो गई है। ताजा मामला रायगढ़ का है, जहां विधायक प्रकाश नायक के बेटे रितिक नायक के सिर पर सत्ता का नशा इस कदर हावी हुआ कि उसने एक ट्रक ड्राइवर की सरेराह पिटाई कर दी। और इतना ही नहीं जब ड्राइवर शिकायत करने थाने पहुंचा तो विधायक पुत्र ने पुलिस थाने के भीतर घुसकर आरक्षक को ही पीट दिया। पिटाई भी ऐसी कि एकआत थप्पड़ नहीं, बल्कि आरक्षक का चेहरा सूजा हुआ दिख रहा है। ट्रक ड्राइवर मुलायम का आरोप है कि रितिक नायक के साथ 5-6 और युवक थे। जिन्होंने रात करीब 1:00 बजे त्रिनिटी होटल के सामने ट्रक को जबरन रोका और उसके साथ मारपीट की। इसके अलावा ट्रक में तोड़फोड़ भी की। घटना के बाद ट्रक चालक ने ट्रक छोड़कर तुरंत पास के थाने कोतरा रोड में पहुंचकर मामले की जानकारी पुलिस को दी। शिकायत मिलते ही पुलिस ने तत्काल घटनास्थल जाकर ड्राइवर के साथ ट्रक को थाने के पास ले आई। तभी विधायक पुत्र और उसके साथी थाना परिसर के अंदर पहुंच गए और ड्राइवर के साथ दोबारा मारपीट की। वहीं एक आरक्षक लालजीत राठिया के साथ भी मारपीट की गई। आरक्षक की आंखों और चेहरे में सूजन आ गई है।

विधायक पुत्र को रात में ही छोड़ दिया गया

इस पर पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए कोतवाली थाने में आरोपी सभी युवकों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस ने आरक्षक और ट्रक ड्राइवर मुलायम यादव दोनों की अलग-अलग एफआईआर दर्ज की है। मारपीट के बाद पुलिस ने आरोपी विधायक पुत्र को थाने में बैठा लिया। लेकिन उसे रात में ही छोड़ दिया गया।




और पढ़ें
Next Story