Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मशीन से सड़क की सफाई, गोल बाजार की दुकानों के मालिकाना हक समेत कई मुद्दों पर होगी चर्चा

नगर निगम की 23 जुलाई को होने वाली सामान्य सभा में गोलबाजार की 922 दुकानों के मालिकाना हक शहर के मुख्य मार्गों की मशीन से सफाई निजी एजेंसी काे 4 साल के लिए देने आमापारा स्वीपर कालोनी तथा डगनिया खदान बस्ती के पुनर्विकास सिटी कोतवाली से गांधी मैदान मार्ग के चौड़ीकरण प्रभावितों के व्यवस्थापन सहित अन्य एजेंडों पर चर्चा होगी।

महंत घासीदास संग्रहालय से गुम हो गई पुरातात्विक महत्व की मूर्तियां, चिट्ठी और आरोपों में उलझा विभाग
X

ब्रेकिंग न्यूज

नगर निगम की 23 जुलाई को होने वाली सामान्य सभा में गोलबाजार की 922 दुकानों के मालिकाना हक शहर के मुख्य मार्गों की मशीन से सफाई निजी एजेंसी काे 4 साल के लिए देने आमापारा स्वीपर कालोनी तथा डगनिया खदान बस्ती के पुनर्विकास सिटी कोतवाली से गांधी मैदान मार्ग के चौड़ीकरण प्रभावितों के व्यवस्थापन सहित अन्य एजेंडों पर चर्चा होगी। कुल 21 एजेंडे इस बार सामान्य सभा में चर्चा के लिए लाए जा रहे हैं। वहीं सभा से पहले पार्षदों द्वारा पूछे गए सवालों पर केंद्रित एक घंटे का प्रश्नकाल अहम होगा। इसके लिए 19 पार्षदों ने जनहित से जुड़े मुद्दों पर 36 सवाल लगाए हैं। सामान्य सभा में हंगामे के आसार हैं।

मशीन से सफाई पर हर महीने 92 लाख खर्च

रायपुर नगर निगम सीमा क्षेत्र के 85 किलोमीटर दायरे के मुख्य मार्ग की सड़कों की मशीन से सफाई संबंधी प्रस्ताव सामान्य सभा में चर्चा के लिए लाया जा रहा है। पूर्व महापौर प्रमोद दुबे के कार्यकाल में सिटी सेनिटेशन संबंधी डीपीआर को स्वीकृति मिली थी। 15वें वित्त आयोग द्वारा इसके लिए आवश्यक राशि स्वीकृत की गई। 4 साल में 47 करोड़ 93 लाख का भुगतान अनुबंधित एजेंसी को नगर निगम करेगा। इसमें सड़क वाइज रेट तय हैं। मेसर्स ग्लोबल मैनेजमेंट एलएलपी गुजरात की कंपनी को मुख्य मार्ग की मशीन से सफाई का ठेका दिया गया है। मशीन से मुख्य मार्ग की सफाई कराने में हर महीने 92 लाख का खर्च आएगा। सालभर में 11 से 12 करोड़ रुपए इस पर खर्च होंगे।

गोलबाजार की दुकानों का मुद्दा भी

नगर निगम को शासन से मालिकाना हक में प्राप्त गोलबाजार की भूमि का बंदोबस्त एवं आवंटन का एजेंडा चर्चा के लिए लाया गया है। नगर निगम को 1 रुपए टोकन मनी पर मिले गोलबाजार क्षेत्र में गांधी बाजार अ एवं गांधी बाजार में छोटे बड़े व्यवसायी मिलाकर करीब 1000 व्यापारी व्यवसाय करते हैं। जिनसे नगर निगम को किराए के रूप में एक साल में केवल 70 लाख रुपए मिलते हैं। जबकि इस क्षेत्र में संपत्ति कर की राशि ज्यादा मिल सकती है।

इसलिए नगर निगम वित्तीय स्थिति मजबूत करने व्यापारियों को उनके स्थल पर ही निर्माण सहित विक्रय दुकानों का मालिकाना हक प्रदान करने का एजेंडा बाजार विभाग के माध्यम से लाया गया है। गोलबाजार के 967 दुकानदारों को मालिकाना हक प्रदान करने संबंधी प्रस्ताव अहम रहेगा। इसके साथ ही सिटी कोतवाली से गांधी मैदान सड़क चौड़ीकरण प्रभावितों के व्यवस्थापन संबंधी प्रस्ताव पर सदन में चर्चा होगी। अन्य प्रस्तावों में विवेकानंद विद्यापीठ रायपुर में निर्मित भवनों के निशुल्क नियमितीकरण करने संबंधी एजेंडा शामिल है।

इन प्रस्तावों पर भी चर्चा

नेताजी सुभाष स्टेडियम के बाहर प्रांगण में नेताजी की घुड़सवारी करती प्रतिमा स्थापित करने और नोबेल पुरस्कार विजेता मदर टेरेसा की आदमकद मूर्ति लगाने एवं लोहार चौक से बनियापारा चौक तक के मार्ग का नामकरण चक्रधर सम्मान से अलंकृत कुंजबिहारी अग्रवाल के नाम से रखे जाने का प्रस्ताव शामिल है।

प्रश्नकाल के लिए पार्षदों के सवाल

सरिता दुबे, पार्षद , ब्राह्मणपारा वार्ड

ब्राह्मणपारा वार्ड में अमृत मिशन योजना के तहत पाइपलाइन एवं घरेलू कनेक्शन का कार्य पूरा होने के बाद पानी सप्लाई शुरू नहीं हुई, कब तक सप्लाई शुरू होगी़? तुंहर सरकार तुंहर द्वार शिविर में कितने लोगों ने वार्ड में आवेदन किया इसमें से कितने आवेदनों का निराकरण हुआ?

अनवर हुसैन, पार्षद, अब्दुल हमीद वार्ड -

दस जोन एवं वार्डों में 3 जनवरी 2019 से आज तक अवैध प्लाटिंग एवं अवैध निर्माण करने पर कितने लोगों को नोटिस दिया गया? क्या कार्रवाई की गई, कितने प्रकरणों पर राजीनामा किया गया। साथ ही कितने प्रकरण पर कार्रवाई बाकी है?

नगर निगम मुख्यालय, जोन दफ्तर एवं वार्डाें में कितने कार्य प्लेसमेंट एजेंसी के माध्यम से कराए जा रहे हैं? प्लेसमेंट कर्मचारियों की स्वीकृति क्या शासन से ली गई है। यदि ली गई है तो आदेश की काॅपी उपलब्ध कराएं।

सूर्यकांत राठौर, पूर्व नेता प्रतिपक्ष -

रामकी कंपनी डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के लिए किन-किन संसाधनों का उपयोग कर रही है एवं उनकी संख्या कितनी है? क्या कंपनी द्वारा गीले एवं सूखे कचरे का उठाव अलग-अलग किया जाता है? यदि हां तो किस तरह? शहर में संपत्ति कर को लेकर जीआईएस सर्वे किस कंपनी द्वारा किया गया है, उनके नियम व शर्तें क्या थीं? सर्वे कार्य के लिए कंपनी को कितना भुगतान किया गया है?

मीनल चौबे, नेता प्रतिपक्ष

भाठागांव में बीएसयूपी के कितने मकान बने हैं उनकी लागत किन वार्डों के लोगों को वहां विस्थापित किया गया है? नगर निगम क्षेत्र में कितने वेंडरों को वेंडर काॅर्ट जारी किए गए हैं, कितने लोगों को स्मार्ट ठेला आवंटित किया गया है? वेंडर जोन बनाने के लिए शासन से कितनी राशि प्राप्त हुई है?


Next Story