Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश की पहली ई-लोक अदालत में साढ़े पांच सौ से ज्यादा प्रकरणों का निपटारा

कोरोनाकाल में हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य की सभी जिला अदालतों ने इतिहास कायम करते हुए देश में पहली ई-लोक अदालत का सफलतापूर्वक आयोजन किया। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के अध्यक्ष न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार मिश्रा के निर्देश पर विशेष ई-लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस ई-लोक अदालत में मामलों की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से की गई।

देश की पहली ई-लोक अदालत में साढ़े पांच सौ से ज्यादा प्रकरणों का निपटारा
X

रायपुर. कोरोनाकाल में हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य की सभी जिला अदालतों ने इतिहास कायम करते हुए देश में पहली ई-लोक अदालत का सफलतापूर्वक आयोजन किया। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के अध्यक्ष न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार मिश्रा के निर्देश पर विशेष ई-लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस ई-लोक अदालत में मामलों की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से की गई।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रायपुर के अध्यक्ष जिला न्यायाधीश रामकुमार तिवारी के मार्गदर्शन में जिला न्यायालय रायपुर एवं गरियाबंद जिले के न्यायालयों में भी इस ई-लोक अदालत का आयोजन किया गया। रायपुर जिला न्यायालय में इस ई-लोक अदालत में कुल 562 प्रकरणों का निराकरण हुआ। इस ई-लोक अदालत मेें कुल 980 मामलों को सुनवाई हेतु रखा गया था। ई-लोक अदालत का उद्घाटन उच्च न्यायालय में आयोजित उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश पीआर रामचंद्र मेनन, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार मिश्रा, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एमएम श्रीवास्तव, न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी द्वारा किया गया।

पक्षकारों ने ऑनलाइन संपर्क

ई-लोक अदालत हेतु जिला न्यायालय रायपुर में कुल 24 खण्डपीठों का गठन किया गया था। साथ ही तालुका स्तर पर गरियाबंद, तिल्दा, देवभोग एवं राजिम के न्यायालयों में भी ई-लोक अदालत लगाई गई थी। इस ई-लोक अदालत में पक्षकारों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से न्यायालय से जोड़ा गया था।

Next Story