Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एमसीआई ने बढ़ाई एक माह एडमिशन की तारीख, लेप्स होने से बच गईं मेडिकल पीजी की 37 सीटें

एक्सटेंड मॉपअप राउंड के बाद भी नहीं भर पाईं 50 सीटें, पुन: पूरी की जा सकती है एडमिशन की प्रवेश प्रक्रिया

एमसीआई ने बढ़ाई एक माह एडमिशन की तारीख, लेप्स होने से बच गईं मेडिकल पीजी की 37 सीटें
X

रायपुर. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने मेडिकल पीजी की सीटों पर एडमिशन की तारीख 31 अगस्त तक बढ़ा दी। इसकी वजह से प्रदेश में चार काउंसिलिंग के बाद भी शेष बची 37 सीटें लेप्स होने से बच गईं। इन सीटों पर प्रवेश की प्रक्रिया पुन: पूरी करने का अवसर चिकित्सा शिक्षा विभाग को मिल गया है।

पूर्व में 31 जुलाई को अंतिम तारीख तय की गई थी और प्राप्त नए पंजीयन के आधार पर सीटें खाली रहने और उस पर शुक्रवार के बाद लेप्स होने का खतरा मंडरा रहा था। दूसरी ओर राजस्थान सरकार और बिहार के निज मेडिकल कालेज द्वारा सुप्रीम कोर्ट में मेडिकल कालेजों की स्नातकोत्तर सीटों पर प्रवेश के लिए निर्धारित 31 जुलाई की अंतिम तारीख को आगे बढ़ाने के लिए आवेदन लगाया गया था, जिसे स्वीकारते हुए अदालत की ओर से एमसीआई को निर्देश जारी किया गया था। इस आधार पर एडमिशन की अंतिम तारीख को एक माह से आगे बढ़ाते हुए 31 अगस्त तय कर दिया गया है। इस बार प्रदेश के शासकीय मेडिकल कालेज रायपुर में डिप्लोमा की 11 सीटों को पीजी में कन्वर्ट किया गया था। साथ ही निजी मेडिकल कालेज में भी विभिन्न विषयों की 28 सीटों पर प्रवेश की अनुमति मिली थी। इस दौरान माना जा रहा था कि प्रदेश में एमडी और एमएस विशेषज्ञों की संख्या बढ़ेगी, लेकिन कोरोनाकाल की वजह से इन सीटों पर एडमिशन की प्रक्रिया पूरी करने के लिए चिकित्सा शिक्षा विभाग को बड़ी मशक्कत करनी पड़ी। काउंसिलिंग की प्रक्रिया के दौरान मामला अदालत तक पहुंचने की वजह से दो बार काउंसिलिंग का निरस्त कर पंजीयन और आवंटन की प्रक्रिया को पूरा करना पड़ा था।

दो काउंसिलिंग और एक मॉपअप राउंड के बाद भी प्रदेश की निर्धारित सीटों में से 50 सीटें रिक्त रह गई थीं। इसके लिए एक्सटेंड मॉपअप काउंसिलिंग हुई और नया पंजीयन होने के साथ प्रवेश के लिए निर्धारित अंक के प्रतिशत को घटाया गया था।

34 का आवंटन

एक्सटेंड मॉपअप राउंड के दौरान नया पंजीयन करने के बाद 34 लोगों की आवंटन सूची जारी की गई थी। 31 जुलाई अंतिम तारीख तक 34 में से 13 लोगों ने एडमिशन लिया और कुल 37 सीटें खाली रह गईं। इसमें शासकीय मेडिकल कालेज की 19 तथा एकमात्र निजी मेडिकल कालेज की 18 सीटें खाली हैं।

लेप्स नहीं होंगी

एक्सटेंड माॅपअप के बाद सीटें खाली बची हैं। एमसीआई ने एडमिशन की तारीख 31 अगस्त तक बढ़ा दी है। इसकी वजह से सीटें लेप्स नहीं होंगी। इन पर प्रवेश दिया जा सकता है।

- डा. जीतेंद्र तिवारी, प्रवक्ता, चिकित्सा शिक्षा विभाग

Next Story
Top