Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बड़ा हादसा: पटरी बदलने के दौरान दो इंजन आपस मे टकराए, एक इंजन बेपटरी

सोमवार की शाम बड़ी चूक सामने आई है। रेलवे स्टेशन के करीब आरआरआइ केबिन के पीछे पिट लाइन पर आगे-पीछे करते समय दो इंजन किनारे से टकरा गए। इसके चलते एक इंजन के छह पहिए पटरी से उतर गए। लापवाही के लिए दोनों इंजन के चालक (शंटर) को निलंबित कर दिया गया है। आनन-फानन में अधिकारी व अन्य कर्मचारी मौके पर पहुंचे। इधर इस साथ ही मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है। पढ़िए पूरी ख़बर...

बड़ा हादसा: पटरी बदलने के दौरान दो इंजन आपस मे टकराए, एक इंजन बेपटरी
X

बिलासपुर: रेलवे स्टेशन के करीब आरआरआइ केबिन के पीछे पिट लाइन पर सोमवार की शाम बड़ा हादसा हुआ, घटना शाम 4:30 बजे की है। पिट लाइन में दो इंजन का किनारा आपस में टकरा गया। इसके कारण एक इंजन पटरी से उतर गया। पिट लाइन में इंजनों की मरम्मत की जाती है। इसके लिए यहां हमेशा इंजन खड़े रहते हैं। सोमवार को भी जितने इंजन आए थे, उनकी मरम्मत हो रही थी। इस दौरान शटर दो इंजन आगे-पीछे कर रहे थे तभी अलग-अलग रेल लाइन में होने के बावजूद दोनों का किनारा एक-दूसरे से टकरा गया। घटना की खबर लगते ही इंजीनियरिंग विभाग का अमला मौके पर पहुंचा। इस दौरान सबसे पहले उतरे पहिए को पटरी पर लाने का काम शुरू हुआ। इस कार्य में रेलकर्मियों को करीब चार घंटे लग गए। रात 8:30 बजे के बाद पहिए को चढ़ाया गया। इसके बाद धीरे-धीरे एक इंजन को आगे बढ़ाया गया। घटना के बाद दोनों इंजन एक दूसरे से चिपक गए थे। इस चूक के लिए दोनों इंजन के शंटर के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई। हालांकि जांच अभी चल रही है। इसलिए इतनी बड़ी चूक कैसे हुई यह स्पष्ट नहीं हो सका है। जानकार बताते हैं कि चालकों द्वारा फालोविंग मार्क की अनदेखी की गई है। फालोविंग मार्क वह है जो दो ट्रैक के बीच एक पत्थर रखा जाता है। यह जहां पर रखे जाते हैं, नियमानुसार इंजन को इससे आगे नहीं ले जाना है। चालकों ने इसे नजर अंदाज कर दिया और आगे जाकर दोनों इंजन एक-दूसरे सट गया। इसके चलते घटना हो गई।

पिट लाइन में दो इंजन का किनारा आपस में टकराया गया। इसके कारण एक इंजन पटरी से उतर गया। यह बड़ी चूक है। इसके मद्देनजर ही दोनों इंजन के शंटर को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच भी की जा रही है।

पुलकित सिंघल सीनियर डीसीएम, बिलासपुर रेल मंडल

Next Story