Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना संक्रमण के चलते ऑक्सीजोन के मुख्य गेट पर ताला, साइड गेट से एंट्री-एग्जिट

शहरवासियों को दो दिन पहले ही हरियाली व आधुनिक मनोरंजन की सुविधाओें से युक्त भव्य आक्सीजाेन गार्डन की सौगात मिली है। ऐसे मेें आक्सीजाेन गार्डन के प्राकृतिक सौंदर्य व मनोरंजन के साधनों का आनंद लेने लोग उत्साहित नजर आ रहे हैं। कोरोना संक्रमणकाल के कारण आक्सीजोन गार्डन में लोग नहीं के बराबर पहुंच रहे हैं।

कोरोना संक्रमण के चलते ऑक्सीजोन के मुख्य गेट पर ताला, साइड गेट से एंट्री-एग्जिट
X

रायपुर. शहरवासियों को दो दिन पहले ही हरियाली व आधुनिक मनोरंजन की सुविधाओें से युक्त भव्य आक्सीजाेन गार्डन की सौगात मिली है। ऐसे मेें आक्सीजाेन गार्डन के प्राकृतिक सौंदर्य व मनोरंजन के साधनों का आनंद लेने लोग उत्साहित नजर आ रहे हैं। कोरोना संक्रमणकाल के कारण आक्सीजोन गार्डन में लोग नहीं के बराबर पहुंच रहे हैं।

वहीं वन विकास निगम ने आक्सीजोन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोगों को एंट्री देेने की व्यवस्था बनाई गई है। इसके लिए आक्सीजोन के प्रमुख गेट को पूरा न खोलकर साइड गेट से लोगों को प्रवेश व निकासी दी जा रही है। इसके मद्देनजर आक्सीजोन के मुख्य गेट पर ताला लगाकर रखा गया है। वन विकास निगम के अधिकारियों का कहना है कि आक्सीजाेन के उद्धाटन के बाद से आक्सीजोन में आम लोगों को सुबह-शाम निर्धारित समय पर एंट्री दी जा रही है। वैसे भी कोरोना संक्रमण के कारण फिलहाल बहुत ही कम संख्या में लोग आक्सीजोन पहुंच रहे हैं। इसीलिए सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करने आक्सीजोन के मख्य द्वारों को पूरा न खोलकर उनके साइड गेट को लोगों के लिए खोला गया है। यहां से आक्सीजोन में लाेग आराम से सावधानी के साथ आवागमन कर रहे हैं।

पंडरी व केनाल रोड गेट से प्रवेश

आक्सीजोन गार्डन में नगरवासियों को सुबह 6 से 10 बजे और शाम 5 से रात 9 बजे तक प्रवेश दिया जा रहा है। आक्सीजाेन में पंडरी रोड व केनाल रोड की ओर स्थित दोनों प्रमुख गेट के साइड गेट को लोगों के आने जाने के लिए खोला गया है। इन गेट से सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लोग अपनी फैमिली के साथ आक्सीजोन में आसनी से एंट्री कर रहे हैं। बड़े गेट पर ताला लगाया गया है, ताकि गार्डन में एंट्री के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके।

साफ सफाई व स्टैच्यू लगाना बाकी

उद्धाटन के बाद अब आक्सीजोन परिसर के अंदर घास व पौधाें की कटाई छंटाई, साफ सफाई और मूर्ति लगाने का काम बाकी रह गया है। इन कार्यों को गार्डन बंद होने के समय दिन में कराया जा रहा है। वैसे आक्सीजोन का 99 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो गया है, जो थोड़ा बहुत मेंटनेंस का कार्य रह गया है, उसे 15-20 दिन में पूरा कर लिया जाएगा।

सावधानी बरत रहे

आक्सीजोन गार्डन को उद्धाटन के बाद नगरवासियों के लिए खाेल दिया गया है, लेकिन कोराेना संक्रमण के मद्देनजर गार्डन में लोगों के प्रवेश के समय विशेष सावधानी बरतते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने अपील की जा रही है।

- राजेश गोवर्धन, एमडी, वन विकास निगम, छग

Next Story