Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शराब पर लगाए गए विशेष कोरोना टैक्स की राशि स्वास्थ्य विभाग को जारी नहीं

शराब पर विशेष कोरोना शुल्क की राशि अब तक स्वास्थ्य विभाग को हस्तांतरित नहीं किए जाने को लेकर विपक्ष ने कहा कि सरकार के द्वारा अन्य मदों में इस राशि को खर्च किया जा रहा है। मंत्री ने मामले में जवाब दिया कि कोरोना में अन्य मदों से खर्च की जा रही है इसलिए इसकी राशि हस्तांतरित नहीं की गई है।

शराब पर लगाए गए विशेष कोरोना टैक्स की राशि स्वास्थ्य विभाग को जारी नहीं
X
शराब (फाइल फोटो)

शराब पर विशेष कोरोना शुल्क की राशि अब तक स्वास्थ्य विभाग को हस्तांतरित नहीं किए जाने को लेकर विपक्ष ने कहा कि सरकार के द्वारा अन्य मदों में इस राशि को खर्च किया जा रहा है। मंत्री ने मामले में जवाब दिया कि कोरोना में अन्य मदों से खर्च की जा रही है इसलिए इसकी राशि हस्तांतरित नहीं की गई है।

प्रश्नकाल में यह मामला भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने उठाया। उन्होंने कहा कि कोरोना के समय शराब पर 10 रुपए का अतिरिक्त शुल्क अधिरोपित कर सरकार ने 200 करोड़ रुपए आबकारी विभाग के खाते में जमा किया। इससे मिलाकर 36 करोड़ रुपए अंग्रेजी माध्यम के स्कूल संचालन के लिए दिया गया है।

शासन द्वारा जारी अधिसूचना में अधोसंरचना में खर्च करने कर लगाने की बात कही गई लेकिन अब अन्य मदों में खर्च कर इसको दुरूपयोग किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि पूर्व में इसे मुख्यमंत्री अधोसंरचना उन्नयन में देने की बात कहीं गई थी।

मंत्री ने कहा कि कोरोना में अन्य मदों से खर्च की गई राशि उपलब्ध होने के कारण इस मद की राशि को जारी नहीं किया गया है। भविष्य में जरूरत पड़ने पर इसका उपयोग किया जा सकता है।


Next Story