Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बाघ की खाल की तस्करी में पांच पुलिस कर्मी और हेल्थ के तीन कर्मचारी धरे गए

वन विभाग और बस्तर पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन चलाकर वन्य जीव तस्करों के बड़े नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है। इसमें संभागीय मुख्यालय शहर के दंतेश्वरी मंदिर के सामने पुलिस एवं वन विभाग की संयुक्त टीम ने पहुंच कर 8 लोगों को हिरासत में लिया। साथ ही उनके कब्जे से बाघ की खाल को बरामद किया। सभी पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों में 5 पुलिस एवं 3 स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी हैं।

बाघ की खाल की तस्करी में पांच पुलिस कर्मी और हेल्थ के तीन कर्मचारी धरे गए
X

जगदलपुर. वन विभाग और बस्तर पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन चलाकर वन्य जीव तस्करों के बड़े नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है। इसमें संभागीय मुख्यालय शहर के दंतेश्वरी मंदिर के सामने पुलिस एवं वन विभाग की संयुक्त टीम ने पहुंच कर 8 लोगों को हिरासत में लिया। साथ ही उनके कब्जे से बाघ की खाल को बरामद किया। सभी पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों में 5 पुलिस एवं 3 स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी हैं।

जानकारी के अनुसार 11 मार्च की शाम को बस्तर जिला पुलिस एवं वन मण्डल के अधिकारियों को मुखबिर के माध्यम से कुछ संदिग्ध लोग जगदलपुर शहर में बाघ की खाल को लेकर शिवरात्रि में तांत्रिक पूजा पाठ करने के लिए आने की सूचना मिली। उक्त सूचना पर वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में जिला पुलिस बल एवं वन विभाग की संयुक्त टीम गठित की गई थी। संयुक्त टीम द्वारा 12 मार्च की सुबह लगभग 3 बजे मुखबिर की सूचना के आधार पर वाहन सीजी 18 एल 1184 सफेद रंग की महेन्द्रा ब्रावो स्पोट्रर्स को दन्तेश्वरी मंदिर के सामने रोक कर तलाशी की। तलाशी में एक बाघ की खाल लम्बाई 223 सेमी तथा चौड़ाई 48 सेमी बरामद की गई।

स्थल से 8 संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर पाया गया कि जिला दन्तेवाड़ा के भांसी थाना क्षेत्र से दो व्यक्तियों से बाघ की खाल प्राप्त कर शिवरात्रि के अवसर पर पूजापाठ करने से सुख समृद्धि मिलने की मान्यता से जगदलपुर दन्तेश्वरी मंदिर के पास आना बताया गया। हिरासत में लिए गए व्यक्तियों भोेमराज ठाकुर 30 वर्ष निवासी तेतरखुटी वन विद्यालय के सामने जगदलपुर, अरूण गोडियम 30 वर्ष निवासी तहसीलपारा बीजापुर, पवन कुमार नक्का 32 वर्ष निवासी जेलबाडा पारा बीजापुर, राकेश ऐमला 25 वर्ष निवासी पदेरा चेरपाल बीजापुर, बाबुलाल मज्जी 30 वर्ष अस्पताल वार्ड बीजापुर, हर प्रसाद गावडे 41 वर्ष निवासी संजय नगर दन्तेवाड़ा, सुरेन्द्र कुमार देवांगन 43 वर्ष जीएडी कालोनी दन्तेवाड़ा एवं अनिल नक्का 25 वर्ष पेदा कोडेपाल थाना नैमेड बीजापुर हैं। इनमें से भोमराज ठाकुर सरल जिला पुलिस बल बस्तर, अरूण गोडियम, पवन कुमार नक्का, राकेश ऐमला, बाबुलाल मज्जी जिला पुलिस बल बीजापुर, हर प्रसाद गावडे, सुरेन्द्र कुमार देवांगन जिला बीजापुर के स्वास्थ्य कर्मी होना पाया गया। सभी 8 व्यक्तियों को वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 2 (14), (20), (32), (36), (37), 39 (1)(अ) (ब) (द), 39 (3) (अ,ब,स), 43 (1) 44 (1) अ (ब)(द), 39 (3)(अ,ब,स), 43 (1)44(1) अ, 48 (क) 49 (क)-(अ,ब,), 49 (ख), 50, 51, 57 के तहत गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

2 सहायक उप निरीक्षक की भी संलिप्तता

बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान बीजापुर जिले में पदस्थ सउनि संतोष बघेल एवं रमेश अगनपल्ली की भी घटना में संलिप्तता होना पाए जाने एवं साक्ष्य सबूत मिलने पर उक्त अधिकारियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों से घटना में सम्मलित अन्य व्यक्तियों के सम्बंध में पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के आधार एवं संकलित साक्ष्य के आधार पर प्रकरण मेे सम्मलित अन्य व्यक्तियों के विरूद्ध अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

वैधानिक कार्रवाई के निर्देश

पुलिस महानिरीक्षक सुन्दरराज पी., मुख्य वन संरक्षक मो. शाहिद, पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा ने जांच टीम को इस प्रकरण में सम्मलित सभी सम्बंधितों के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई करने निर्देशित किया गया है।

Next Story