Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चुनावी चाय-समोसे पर महंगाई बेअसर, प्रत्याशी का समोसा 8 रुपए ही काउंट होगा, बाजार भाव से निर्वाचन आयोग ने फेरी नज़रें

प्रदेश में नगरीय निकाय चुनावों की घोषणा के बाद प्रत्याशी प्रचार में जुट गए हैं। लेकिन उम्मीदवारों को चुनाव आयोग urban body elections का झटका लग सकता है। क्योंकि आयोग ने नगर पंचायत में पार्षद प्रत्याशियों का खर्च अधिकतम 50 हजार, नगर पालिका में डेढ़ लाख और नगर निगमों में तीन से पांच लाख खर्च की सीमा तय की है। खर्च पर निगरानी के लिए आयोग Election Commission ने प्रेक्षक नियुक्त किये है। आयोग के नए निर्देशो के तहत प्रत्याशियों को अब राजनीतिक दलों के साथ प्रचार प्रसार करना महंगा हो जायेगा, पढ़िए पूरी ख़बर..

चुनावी चाय-समोसे पर महंगाई बेअसर, प्रत्याशी का समोसा 8 रुपए ही काउंट होगा, बाजार भाव से निर्वाचन आयोग ने फेरी नज़रें
X

रायपुर. बाजार में बिकने वाला चाय और समोसा 10 रुपए का हो गया है, लेकिन प्रत्याशी को समोसा और चाय अब भी 8 रुपए में ही खरीदना पड़ेगा। अब भी आयोग (Chhattisgarh Election Commission) द्वारा जारी चुनावी व्यय दर दो साल पहले हुए निकाय चुनावों के बराबर ही है। बीते सालो में बढ़ी महंगाई का असर चुनाव में भी देखने को मिल रहा है।

आयोग ने 2019 के निर्वाचन के बाद जो सामानों के खर्च की सूची दी है, उसमें वृद्धि नहीं की है। जबकि इन दो वर्षों में पेट्रोल और डीजल का दाम औसत 35 रुपए बढ़ गया है। यही हाल खाद्य तेल का है। खाद्य तेल तो दो साल में दोगुनी कीमत में बिक रहा है। इसके अलावा केसर लस्सी 30 रुपए, पेपर पैक 200 एमएल 15 रुपए, शरबत एक गिलास 10 रुपए, आलू पोहा प्रति प्लेट 15 रुपए, पूड़ी-सब्जी प्रति प्लेट 30 रुपए, इसमें पांच पूड़ी रहेगी। मिक्चर 50 ग्राम 5 रुपए, चाय फुल आठ रुपए और हाफ चाय चार रुपए की लेनी पड़ेगी।

टोपी के रेट 15 से 25 रुपए

विधानसभा चुनावों में अधिकांश कार्यकर्ता अपने-अपने दल के चिन्ह वाली टोपी तथा टी शर्ट का प्रयोग करते हैं। इस बार टी शर्ट की निर्धारित दर 65 रुपए प्रति नग रखी गई है। रेशमी दुपट्टा 6 रुपये से 12 रुपए प्रति नग, टोपी 15 रुपए से 25 रुपए प्रति नग तक पहुंच गया है।

फूलों की माला 15 से 220 रुपए

प्रत्याशियों की शान में बैंड बाजा बनाने वालों (11 लोगों के ग्रुप ) 8 हजार रुपए प्रति घंटे का रेट आयोग (Chhattisgarh Election Commission) ने तय किया है। प्रत्याशियों को पहनाई जाने वाली छोटी माला 15 रुपए, बड़ी माला 40 और वीआईपी माला की कीमत भी 220 रुपए है।

20 का पानी लेना पड़ेगा 15 रुपए में

एक लीटर का पानी बॉटल 15 रुपए प्रति नग, आधा लीटर का बॉटल 9 रुपए प्रति नग, 250 एमएल का बॉटल 6 रुपए और शहर में दो रुपए में मिलने वाला पानी पाउच दलों को 80 पैसे प्रति नग में खरीदना पड़ेगा। मोबाइल फोन से एक एसएमएस भेजने पर 10 पैसे लगेंगे। इसके अलावा प्रचार के लिए सीडी, डीवीडी आदि का इस्तेमाल करने वालों के लिए भी पैसे लगेंगे।

बाइक का 200, साइकिल का 40 रुपए चार्ज

निकाय निर्वाचन 2018 के लिए आयोग ने सभी वस्तुओं के रेट निर्धारित कर दिए हैं। मोटर साइकिल 200 रुपए प्रतिदिन तथा साइकिल का 40 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से खर्च जुड़ेगा। जिन गाडिय़ों तथा साइकिल पर किसी पार्टी या प्रत्याशी का स्टीकर तथा झंडा लगा मिलेगा, उस वाहन या साइकिल को चुनावी खर्च में जोड़ लिया जाएगा।

खाने का रेट भी पुराना

निर्वाचन आयोग की ओर से जरनल थाली के लिए 65 रुपए, नार्मल थाली के लिए 80 रुपए और स्पेशल थाली के लिए 120 रुपए तय किया गया है। वहीं कोल्ड ड्रिंक के लिए 200 एमएल के लिए 18 रुपए, 180 एमएलए 15 रुपए और दो लीटर का कोल्ड ड्रिंक 150 रुपए का मिलेगा।



इसी दर से जुड़ेगा चुनावी खर्च

चुनावी खर्चों पर रोक लगाने की मंशा से आयोग ने इस वर्ष कुछ नए नियम बनाए हैं। विगत निकाय चुनावों तक प्रत्याशी तथा राजनीतिक दल चुनावी खर्च को बेहद मामूली ढंग से बनाकर जमा करते थे। बीते वर्षों के मुताबिक आयोग ने सभी वस्तुओं के रेट निर्धारित कर दिए हैं, यानी निर्धारित दर से कम का खर्च मान्य ही नहीं होगा।

आयोग द्वारा निर्धारित रेट की सूची सभी राजनीतिक दलों (Chhattisgarah political Parties) को दी जा चुकी है। नामांकन के बाद सभी प्रत्याशियों को भी सूची का एक-एक सेट दिया जाएगा। निर्धारित दर से कम दर पर दिए गए चुनावी खर्च मान्य नहीं होंगे। ऐसी स्थिति में निर्धारित दर ही लगाई जाएगी।

- उमेश अग्रवाल, उप निर्वाचन अधिकारी

Next Story