Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजधानी की व्यस्त नाईट चौपाटी में रईसजादे ने भीड़ में घुसा दी तेज रफ्तार कार, लोगों ने लात-घूसों से पीटा,

दिवाली के दूसरे दिन MG रोड पर लगने वाली नाइट चौपाटी में लोग स्ट्रीट फूड का लुत्फ ले रहे थे। परिवार समेत यहां पहुंचे लोगों की भीड़ थी। इतने में साहिल जैन ने यहां तेज रफ्तार में गाड़ी भरी भीड़ में घुसा दी। पढ़िए पूरी खबर।

राजधानी की व्यस्त नाईट चौपाटी में रईसजादे ने भीड़ में घुसा दी तेज रफ्तार कार, लोगों ने लात-घूसों से पीटा,
X

रायपुर: हादसा राजधानी के व्यस्ततम इलाके MG रोड का है. MG रोड पर लगने वाली नाइट चौपाटी में लोग स्ट्रीट फूड का लुत्फ ले रहे थे। परिवार समेत यहां पहुंचे लोगों की भीड़ थी। इतने में साहिल जैन ने यहां तेज रफ्तार में गाड़ी भरी भीड़ में घुसा दी। रास्ते में मौजूद कुछ लोगों को चोटें आईं। किनारों पर खड़ी दूसरी गाड़ियों को ठोकते हुए साहिल अपनी कार में निकल गया।

लोगों ने बताया कि कुछ मिनट बाद दूसरी तरफ से फिर इसी अंदाज में साहिल गाड़ी लेकर आया, कार धीमी हुई तो लोगों ने इसे घेर लिया। कुछ लोगों ने पुलिस को भी खबर दे दी। भीड़ ने साहिल जैन के कार से निकलते ही उस पर लात-घूसों की बरसात शुरू कर दी। लोग इस बात से खफा थे कि उसकी लापरवाही की वजह से उनके परिजनों की जान भी जा सकती थी, तभी मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने साहिल को वहां से निकाला और थाने लाकर लॉकअप में डाल दिया। खबर है कि इस हादसे में कुछ महिलाओं को चोट आई है। कुछ फूड स्टॉल वालों का भी नुकसान हुआ है।

साहिल जैन की गाड़ी को थाने लाकर पुलिस ने तलाशी ली। कार से शराब की बोतलें मिली हैं। गाड़ी में हुक्का भी रखा हुआ मिला। छत्तीसगढ़ सरकार ने हुक्का प्रतिबंधित कर दिया है। इसके बाद भी साहिल के पास से हुक्का बरामद किया गया है। अब मौदहापारा थाने की पुलिस लोगों की जिंदगी खतरे में डालने, लापरवाही से गाड़ी चलाने, प्रतिबंधित हुक्का रखने जैसे मामलों में साहिल के खिलाफ केस दर्ज कर सकती है।

साहिल जैन रायपुर में इवेंट कंपनी चलाता है। और दो साल पहले केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह का मीडिया सलाहकार रह चुका है। रेणुका सिंह के नाम का दुरूपयोग करने की वजह से साहिल को काम से निकाल दिया गया था। रायपुर के कारोबारी परिवार से ताल्लुक रखने वाला साहिल मारपीट और गुंडगर्दी के मामले में भी आरोपी है। पांच महीने पहले इसने टाटीबंध के एक कार डीलर के दफ्तर में घुसकर तोड़-फोड़ और मारपीट की थी। इस मामले में सरस्वती नगर थाने की टीम साहित को ढूंढ रही थी।








Next Story