Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पान के लिए कत्था बनाने वाली लकड़ी का अवैध कारोबार फूटा : पकड़ी गई प्रतिबंधित 15 टन लकड़ी

इस प्रजाति के पेड़ छत्तीसगढ़ के सराईपाली क्षेत्र के जंगलों में बड़ी संख्या में मौजूद हैं। शायद इसीलिए इस लकड़ी का अवैध कारोबार भी इस इलाके में फल- फूल रहा है। अब सरायपाली के वन अमले ने एक बड़ी कार्रवाई की है। पढ़िए कैसे और कहां पकड़ी गई खैर की लकड़ी...

पान के लिए कत्था बनाने वाली लकड़ी का अवैध कारोबार फूटा : पकड़ी गई प्रतिबंधित 15 टन लकड़ी
X

सरायपाली-महासमुंद। हमारे देश में पान खाने के शौकीनों की कोई कमी नहीं है। पान बनाने में सबसे उपयोगी दो चीजें मानी जाती हैं। पहला चूना और दूसरा कत्था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कत्था बनता कैसे और किस चीज से है। आइ आज हम आपको बताते हैं। ये खैर नामक एक पेड़ की लकड़ी से बनाई जाती है। इस प्रजाति के पेड़ छत्तीसगढ़ के सराईपाली क्षेत्र के जंगलों में बड़ी संख्या में मौजूद हैं। शायद इसीलिए इस लकड़ी का अवैध कारोबार भी इस इलाके में फल- फूल रहा है। अब सरायपाली के वन अमले ने एक बड़ी कार्रवाई की है। वन विभाग के कर्मियों ने छापा मारकर 50 लाख की 15 टन प्रतिबंधित खैर की लकड़ी जब्त की है। भंवरपुर रोड पर स्थित एक गोडउन में छापा मारकर खैर प्रजाति की बेशकीमती लकड़ी जब्त की गई है। पान का कत्था बनाने में इसी लकड़ी का उपयोग किया जाता है। कुछ दिन पहले 1.50 करोड़ मूल्य की इसी प्रजाति की लकड़ी जब्त हुई थी। खैर के लकड़ी की अवैध रूप से जमा करने वाले के खिलाफ वन अधिनियम 1927 के तहत कार्रवाई की गई है।

Next Story