Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पत्नी वियोग से पीड़ित पति चला था जान देने : मां ने किया डायल 112, संयोग से समय पर पहुंची पुलिस और बचा ली उसकी जान

कई बार खाकी अपने कामों से लोगों को स्वेच्छा से ही सलाम करने का अवसर प्रदान कर देती है। दरअसल बुधवार आज दोपहर 3 बजे एक युवक की फांसी लगाने की सूचना कोटा थाना अंतर्गत मिलने पर डायल 112 के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और युवक की जान बचा ली। पढ़िए ये रोचक खबर...

पत्नी वियोग से पीड़ित पति चला था जान देने : मां ने किया डायल 112, संयोग से समय पर पहुंची पुलिस और बचा ली उसकी जान
X

कोटा। कई बार खाकी वर्दी वाले अपने कामों से लोगों को स्वेच्छा से ही सलाम करने का अवसर प्रदान कर देते हैं। दरअसल बुधवार की दोपहर बाद 3 बजे एक युवक की फांसी लगाने की सूचना मिलने पर डायल 112 के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और युवक की जान बचा ली। पुलिस जब पहुंची तब तक युवक फंदा तैयार कर उसे गले में डालने की कोशिश कर रहा था। ग्राम पंचायत खुरदूर में रहने वाले एक युवक के फांसी लगाने की सूचना डायल 112 को मिली थी।

डायल 112 के कर्मचारियों ने सक्रियता दिखाते हुए मिनट में बताए गए पते पर पहुंच गए और देखा कि कमरे के अंदर एक युवक गले में फंदा डाल रहा है। इस पर थाना कोटा पुलिस कर्मी डायल 112 श्याम लाल सोनवानी, व प्रधान आरक्षक कमलेश सिंह ,पायलट मोनू जायसवाल ने दरवाजा खोला और युवक को बचा लिया। दरवाजा अंदर से बंद नहीं था बल्कि कुछ सामान रखकर बंद किया था। इसके चलते पुलिस युवक की जान बचाने में सफल हो पाई। युवक के परिजनों ने बताया कि कुछ दिन पूर्व युवक की पत्नी आपसी विवाद के चलते मायके चली गई थी। अभी तक नहीं लौटी तो निराश युवक ने आत्महत्या का प्लान बनाया। उसकी मां ने दरवाजा बंद देखा और नहीं खोलने पर पड़ोसी के मोबाइल की मदद से पुलिस कंट्रोल रूम सूचना दी। इस पर पुलिस ने त्वरित पहुंचकर उसकी जान बचा ली। डायल 112 के बारे में जो 'बस एक कदम दूर' की जो बात कही गई है, वह आज पूरी तरह चरितार्थ होते नजर आई। पुलिस की सक्रियता ने एक जिंदगी बचा ली। वहीं लोगों में भी पुलिस के प्रति सम्मान की भावना बढ़ गई। देखिये वीडियो -


Next Story