Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पति ने भारी-भरकम कर्ज लेकर पत्नी को चुनाव लड़वाया, हार के बाद घर में आए दिन विवाद, मामला अब तलाक तक जा पहुंचा, पत्नी ने कराई FIR

पति ने भारी भरकम कर्ज लेकर पत्नी को जिला पंचायत का चुनाव लड़वाया. बीजेपी महिला नेता मंजूलता टंडन पति की इच्छा का सम्मान करते हुए चुनाव लड़ने के लिए राजी हो गई. मगर मंजूलता टंडन चुनाव में हार गई. इस हार के बाद आए दिन घर में विवाद होने लगा. पति होरी राम टंडन पत्नी को हार के लिए जिम्मेदार मानते हुए ताने देने लगे. वाद-विवाद का सिलसिला चलता रहा. अब मामला तलाक तक जा पहुंचा है. पति होरी राम महिला नेता मंजूलता टंडन को तलाक देने के लिए धमकी देने लगे हैं. फ़िलहाल महिला नेता ने पामगढ़ थाने में पति के खिलाफ FIR दर्ज कराई है.

पति ने भारी-भरकम कर्ज लेकर पत्नी को चुनाव लड़वाया, हार के बाद घर में आए दिन विवाद, मामला अब तलाक तक जा पहुंचा, पत्नी ने कराई FIR
X

जांजगीर. पति ने भारी भरकम कर्ज लेकर पत्नी को जिला पंचायत का चुनाव लड़वाया. बीजेपी महिला नेता मंजूलता टंडन पति की इच्छा का सम्मान करते हुए चुनाव लड़ने के लिए राजी हो गई. मगर मंजूलता टंडन चुनाव में हार गई. इस हार के बाद आए दिन घर में विवाद होने लगा. पति होरी राम टंडन पत्नी को हार के लिए जिम्मेदार मानते हुए ताने देने लगे. वाद-विवाद का सिलसिला चलता रहा. अब मामला तलाक तक जा पहुंचा है. पति होरी राम महिला नेता मंजूलता टंडन को तलाक देने के लिए धमकी देने लगे हैं. फ़िलहाल महिला नेता ने पामगढ़ थाने में पति के खिलाफ FIR दर्ज कराई है.

बीजेपी की महिला नेता और सांसद प्रतिनिधि मंजूलता टंडन ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया कि बुधवार दोपहर को वह घर में ही थी. उनके पति होरी राम भी थे. इस दौरान उनमें विवाद हुआ और आरोप है कि होरी राम ने उनकी पिटाई कर दी. इसके चलते उनको कई जगह चोटें आई है. इस दौरान मौके पर मौजूद रिश्तेदारों ने किसी तरह बीच-बचाव किया. अब पति होरी राम उन्हें तलाक की धमकी दे रहे हैं और घर से निकल जाने के लिए कहा है.

दरअसल मंजूलता टंडन ने साल 2019 में जिला पंचायत चुनाव लड़ा था. उन्हें क्रमांक-5 से पार्टी ने अपना अधिकृत प्रत्याशी बनाया. हालांकि इस चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा. मंजूलता ने पुलिस को बताया कि इस चुनाव में काफी खर्च हुआ. यह रकम पति ने कर्ज के रूप में ली थी, लेकिन आज तक चुका नहीं सके हैं. इसी बात को लेकर दोनों में अक्सर विवाद होता है. मंजूलता का कहना है कि चुनाव उनके इच्छा के विरूद्ध लड़वाया गया था.

Next Story