Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बस्तर संभाग में सालों से चल रहे सैकड़ों अवैध गुड्स वाहन, अब कहा परिवहन विभाग ने, करेंगे कार्रवाई

बस्तर संभाग के जिला मुख्यालय में सैकड़ों वाहन परिवहन विभाग में बिना पंजीयन के बेखौफ चल रहे हैं। गुड्स वाहनों के पंजीयन के लिए कर्मचारी तय किया गया है, पर तीन माह में पंजीयन के लिए एक भी ट्रांसपोर्टर नहीं पहुंचा। परिवहन विभाग के अनुसार एक बार बिना पंजीयन के व्यवसाय करते पाए जाने पर 5 हजार रूपए एवं दूसरी बार मिलने पर 10 हजार रूपए का जुर्माना किया जाएगा। पढ़िए पूरी ख़बर...

बस्तर संभाग में सालों से चल रहे सैकड़ों अवैध गुड्स वाहन, अब कहा परिवहन विभाग ने, करेंगे कार्रवाई
X

जगदलपुर: परिवहन विभाग से बिना पंजीयन के गुड्स वाहन चल रहे हैं, जिसमें से बस्तर संभाग में बिना पंजीयन के लगभग सैकड़ों गुड्स वाहन हैं। इस पर उड़नदस्ता प्रभारी ने तीन माह पूर्व 13 गुड्स वाहनों पर कार्रवाई की थी। अब विभाग एवं उड़नदस्ता प्रभारी फिर से कार्रवाई करने की तैयारी में है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बस्तर संभाग के जिला मुख्यालय में सैकड़ों वाहन परिवहन विभाग में बिना पंजीयन के बेखौफ चल रहे हैं। इस पर 7 सितंबर को परिवहन विभाग के अपर परिवहन आयुक्त के निर्देश पर परिवहन विभाग के उड़नदस्ता प्रभारी एवं निरीक्षक की टीम ने 13 गुड्स वाहनों की जांच की। जांच में पंजीयन नहीं होने पर पंचनामा की कार्रवाई की गई। एक ही दिन में परिवहन विभाग की ओर से की गई कार्रवाई से हड़कंप मच गया था। इसके लिए आरटीओ कार्यालय में एक कर्मचारी को तय किया गया कि पहुंचने वाले वाहनों का पंजीयन किया जाएगा।

कार्यालय में नहीं पहुंचे गुड्स ट्रांसपोर्टर

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि गुड्स वाहनों के पंजीयन के लिए कर्मचारी तय किया गया है, पर तीन माह में पंजीयन के लिए एक भी ट्रांसपोर्टर नहीं पहुंचा।

क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ऋषभ नायडू

पंजीयन जरूरी

उड़नदस्ता प्रभारी एवं निरीक्षक एसके झा ने बताया कि परिवहन विभाग के अनुसार एक बार बिना पंजीयन के व्यवसाय करते पाए जाने पर 5 हजार रूपए एवं दूसरी बार मिलने पर 10 हजार रूपए का जुर्माना किया जाएगा। इससे गुड्स वाहन के लिए परिवहन विभाग में पंजीयन जरूरी है।

उड़नदस्ता प्रभारी एवं निरीक्षक एसके झा

Next Story