Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुबह किये वादे से शाम को मुकर गई सरकार ! पूर्व सीएम रमन सिंह ने कसा तंज

डॉ. रमन : सूझबूझ व समझ के अभाव, अंतर्विरोध व गुटीय सत्ता-संघर्ष से जूझती सरकार प्रदेश का भला कर ही नहीं सकती। पढ़िए पूरी खबर-

सुबह किये वादे से शाम को मुकर गई सरकार ! पूर्व सीएम रमन सिंह ने कसा तंज
X

रायपुर। भाजपा ने धान नहीं बेचने वाले किसानों को भी दस हजार प्रोत्साहन राशि दिए जाने वाले खाद्य मंत्री अमरजीत भगत के बयान और बाद में जारी किए गए स्पष्टीकरण पर सरकार को घेरा है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने किसानों को बिना धान बेचे 10 हज़ार रुपए देने की सरकार द्वारा सुबह की गई घोषणा को शाम को पलट देने पर प्रदेश सरकार की मंशा पर सवाल उठाया है। रमन सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार बताए कि आख़िर सुबह किसानों को पैसा देने की घोषणा को शाम तक क्यों बदलना पड़ा? ऐसा करके सरकार किसानों के साथ एक बार फिर वादाख़िलाफ़ी की भूमिका तैयार कर रही है।

उन्होंने कहा है कि- नेतृत्वहीनता की इससे बड़ी मिसाल और क्या होगी कि प्रदेश सरकार के मंत्री सुबह जो घोषणा करते हैं, शाम को उससे मुकरने के लिए विवश हो जाते हैं! दरअसल कांग्रेस और प्रदेश सरकार में चल रहे गुटीय सत्ता संघर्ष के चलते प्रदेश सरकार दुविधाओं से घिरी हुई है और उसे यह सूझ ही नहीं रहा है कि वह सरकार चलाए कैसे? सुबह बिना धान बेचे किसानों को 10 हज़ार रुपए देने की घोषणा और शाम को उससे पलटना कांग्रेस के इसी अंतर्विरोध का परिणाम है।

डॉ. सिंह ने कहा कि राजनीतिक व प्रशासनिक सूझबूझ और समझ के अभाव में चल रही यह सरकार प्रदेश का कोई भला कर ही नहीं सकती। जो सरकार किसानों का पैसा किश्तों में देने के लिए भी कर्ज़ पे कर्ज़ लेकर प्रदेश के अर्थतंत्र को ध्वस्त करने पर आमादा है, वह सरकार बस जुबानी जमाखर्च करके झूठी वाहवाही बटोरने की फ़िराक़ में ही लगी हुई है।

इस मामले में कांग्रेस के कद्दावर नेता कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि- खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने किस परिपेक्ष में मैं कह नहीं सकता। फिलहाल सरकार की ऐसी कोई योजना नहीं है। मंत्रिमंडलीय उपसमिति की बैठक होगी उसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

बता दें मामले ने तूल तब पकड़ा था जब कल खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने बयान दिया था कि- किसानों को धान नहीं बेचने पर भी न्याय योजना का लाभ दिया जाएगा। आज कांग्रेस ने ऐसी किसी योजना को किया खारिज।

Next Story