Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फेसबुक और मैसेंजर के बाद अब टेलीग्राम पर नाइजीरियन ठग

बिजनेस वीजा में भारत आए नाइजीरियन ठगी के नए-नए तरीके इजाद कर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं। नाइजीरियन ठग ज्यादातर हाईटेक तरीके से ठगी की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। अब तक फेसबुक और मैसेंजर के माध्यम से नाइजीरियन ठगी करते रहे हैं लेकिन अब टेलीग्राम भी इनके आतंक से नहीं बचा है।

फेसबुक और मैसेंजर के बाद अब टेलीग्राम पर नाइजीरियन ठग
X

ऑनलाइन अपराध (प्रतीकात्मक फोटो)

बिजनेस वीजा में भारत आए नाइजीरियन ठगी के नए-नए तरीके इजाद कर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं। नाइजीरियन ठग ज्यादातर हाईटेक तरीके से ठगी की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। अब तक फेसबुक और मैसेंजर के माध्यम से नाइजीरियन ठगी करते रहे हैं लेकिन अब टेलीग्राम भी इनके आतंक से नहीं बचा है। ऐसे ही एक मामले में नाइजीरियन ठगों ने रायपुर के एक युवक से 75 हजार रुपए ठगी की घटना को अंजाम दिया है। नाइजीरियन ठग ने युवक से इंडियन करेंसी को बिटक्वाइन में ट्रांसफर कराकर ठगी की है। घटना देवेन्द्र नगर थाना क्षेत्र की है। ठगी के मामले की जांच सायबर सेल पुलिस कर रही है।

पुलिस के मुताबिक लोकेश मेधानी ने एंथोनिया बोन मेन के खिलाफ ठगी की शिकायत दर्ज कराई है। लोकेश ने पुलिस को बताया कि एंथोनिया ने उसे टेलीग्राम के एक ग्रुप में जोड़ा जिसमें वह स्वयं ग्रुप एडमिन है। इसके बाद उसे ट्रेडर्स लैंड आनर्स डॉट कॉम में रकम निवेश करने पर अन्य निवेश कंपनियों की अपेक्षा ज्यादा मुनाफा मिलने का झांसा देकर ठगी का शिकार बनाया।

24 घंटे में 15 प्रतिशत मुनाफा देकर फंसाया

ठग के झांसे में आकर लोकेश ने पहले चार हजार रुपए निवेश किया। उस चार हजार रुपए का 24 घंटे के भीतर 15 प्रतिशत मुनाफा देते हुए ठग ने 46 सौ रुपए लौटाए। इसके बाद लोकेश लालच में आकर 20 हजार रुपए जमा किया। रकम नहीं मिलने पर लोकेश ने टेलीग्राम के माध्यम से ठग से संपर्क किया तो उसने और निवेश करने पर मुनाफा मिलने का झांसा देकर खाते में इंडियन करेंसी को बिटक्वाइन में कनवर्ट कराकर अलग-अलग किश्तों में 54 हजार रुपए जमा करा लिया। उल्लेखनीय है टेलीग्राम में किसी ग्रुप में जुड़ने या जोड़े जाने पर ग्रुप के सदस्यों के नाम तो दिखते हैं लेकिन उनका मोबाइल नंबर नहीं दिखता। जब तक सदस्य का मोबाइल नंबर आपके कांटेक्ट लिस्ट में सेव न हो।


Next Story