Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कलेक्टर के ट्रांसफर पर घड़ी चौक में फूटे पटाखे, भाजपा का तंज- 'काम की बजाय तबादला करवाने में लगे हैं विधायक'

दर्जनों विभाग के सचिव और संचालकों को हटाकर नए अफसरों को बिठा दिया गया है। इस सूची में कोरिया कलेक्टर सत्यनारायण राठौर का भी नाम है, जिन्हें मंत्रालय भेजा गया है। पढ़िए पूरी खबर-

कलेक्टर के ट्रांसफर पर घड़ी चौक में फूटे पटाखे, भाजपा का तंज- काम की बजाय तबादला करवाने में लगे हैं विधायक
X

कोरिया। शनिवार की शाम प्रशासनिक फेरबदल की एक लिस्ट सरकार की तरफ से जारी की गई। इसमें प्रदेश के अलग-अग विभाग में काम कर रहे 30 IAS अफसरों के नाम हैं। कोरिया, कोरबा, जांजगीर, बेमेतरा, बलरामपुर जैसे जिलों के कलेक्टर भी बदले गए हैं। दर्जनों विभाग के सचिव और संचालकों को हटाकर नए अफसरों को बिठा दिया गया है। इस सूची में कोरिया कलेक्टर सत्यनारायण राठौर का भी नाम है, जिन्हें मंत्रालय भेजा गया है।

सत्यनारायण राठौर के तबादले का आदेश आते ही जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर के घड़ी चौक में पटाखे फोड़कर खुशी का इजहार किया गया। शासकीय सेवा में रहने के दौरान ट्रांसफर का होना एक सतत चलने वाली प्रक्रिया है। पर ट्रांसफर को लेकर दिखाई देने वाली खुशी समझ से परे है।

गौरतलब है कि हाल ही में राठौर ने जिले में अपने कार्यकाल का एक साल पूरा किया है। उसके बाद से उनके ट्रांसफर की अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन राजनीतिक गलियारों में कलेक्टर के ट्रांसफर को बैकुण्ठपुर की विधायक और छतीसगढ़ सरकार में संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव की नाराजगी से जोड़कर देखा जा रहा है जो जिले में सर्वविदित था। बताया जा रहा है कि संसदीय सचिव और कलेक्टर की आपस में जम नहीं रही थी और कई अवसरों पर ये नाराजगी सामने भी आ रही थी। ऐसे में ये माना जा रहा है कि अम्बिका सिंहदेव के दवाब के बाद उन्हें यहां से हटाया गया है जबकि जिले के बाकी दोनो कांग्रेस विधायक उनको हटाने के पक्ष में नहीं थे।

नाराजगी के बाद हटाये गए कलेक्टर सत्यनारायण राठौर का नाम ट्रांसफर सूची में आते ही जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर के घड़ी चौक में पटाखे फोड़कर खुशी का इजहार किया गया। इस दौरान चौक में संसदीय सचिव से जुड़े समर्थकों को भी देखा गया। ऐसा कम ही देखने को मिलता है कि कलेक्टर के ट्रांसफर पर इस तरह से सार्वजनिक खुशी का इजहार किया जाए। दवाब में कलेक्टर के बदले जाने को लेकर भी सोशल मीडिया में चर्चा चल रही है। अम्बिका सिंहदेव के कट्टर समर्थक कांग्रेस नेता आशीष डबरे ने ट्रांसफर को लेकर कहा कि कोरिया जिला विकास को लेकर पिछड़ रहा था। वहीं भाजपा नेता देवेंद्र तिवारी ने इस पर तंज कसते हुए कहा कि काम करने की बजाय विधायक ट्रांसफर करवाने में लगे हैं।

Next Story