Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिक्षाकर्मी फर्जीवाड़ा : बेमेतरा में महिला समेत दो पर FIR, शातिराना अंदाज में लगाया चूना

दोनों ने कोरबा जिले के पाली जनपद पंचायत में अपनी नियुक्ति और वहां से बेमेतरा जिले में स्थानांतरण का आदेश दिखाकर यहां के अफसरों को बेवकूफ बना लिया। पढ़िए पूरी खबर-

शिक्षाकर्मी फर्जीवाड़ा : बेमेतरा में महिला समेत दो पर FIR, शातिराना अंदाज में लगाया चूना
X

बेमेतरा। दो लोगों ने शिक्षाकर्मी की फर्जी नियुक्ति पत्र और फर्जी स्थानांतरण आदेश बनाकर प्रशासन की आंखों में ऐसे धूल झोंका कि 12 साल नौकरी कर ली, किसी को हवा नहीं लगी।

अब जब शिकायत हुई, तो जांच भी हुई। जांच के बाद पता चला कि दोनों प्रशासन को चूना लगा रहे थे। इसमें से एक महिला है। दोनों के खिलाफ एफआईआर कराने की तैयारी की जा रही है।

जानकारी मिली है कि यह मामला बेमेतरा जिले का है। सरकारी प्राइमरी स्कूल बेरला में पदस्थ शिक्षक भोला प्रसाद और सरकारी प्राइमरी स्कूल सोड़ में पदस्थ उपासना पांडे के संबंध में ऐसी ही जानकारी मिली है। दोनों ने कोरबा जिले के पाली जनपद पंचायत में अपनी नियुक्ति और वहां से बेमेतरा जिले में स्थानांतरण का आदेश दिखाकर यहां के अफसरों को बेवकूफ बना लिया।

दोनों 12 सालों तक नौकरी भी कर लिए। जब इसकी शिकायत हुई, तब बेमेतरा के शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने कोरबा जिले के पाली जनपद पंचायत सीईओ और पाली के बीईओ से इन दोनों के संबंध में जानकारी मांगी, तब पता चला कि न तो वहां इनकी नियुक्ति हुई, ना ही ऐसा कोई स्थानांतरण हुआ है।

अब ठगा चुका बेमेतरा का शिक्षा विभाग इन दोनों आरोपियों के खिलाफ एफआईआर कराने की तैयारी कर रहा है। इस पूरे मामले में बड़ा सवाल यह भी पैदा होता है, कि 12 साल पहले जब दोनों ने यहां जॉइनिंग ली, तो जॉइनिंग देने के पहले उनके दस्तावेजों की कोई जांच नहीं हुई। उस समय जांच नहीं भी हुई, तो 12 सालों के दौरान कभी ऐसा मौका नहीं आया कि अधिकारियों को इसकी भनक लगी हो। अगर इस मामले की शिकायत नहीं होती, तो शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अभी भी भनक नहीं लगती।




Next Story