Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

EXCLUSIVE VIDEO: कबाड़ चोरों के कारनामे से अंधेरे में आधा दर्जन जिले, लोगों ने कहा- `शुक्र है पूरा टावर नहीं ले गए`

आधा दर्जन जिलों को अंधेरे में डाल, 1 करोड़ का नुकसान करने वाले कबाड़ चोरों ने महज़ 10 हजार के लोहे के लिए टावर का सपोर्ट एंगल ही काट डाला। "शुक्र है चोर पूरा टावर नहीं ले गए" लोगों के इस कथन के पीछे वज़ह सिर्फ हंसी-मज़ाक नहीं है। जिस तरह की हिमाकत चोरों ने की है। वो बिना किसी बैक सपोर्ट के संभव नहीं। पुलिस और कबाडियों की जुगलबंदी जगजाहिर है। बहरहाल ये मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस ने तत्काल कबाडियों को धर दबोचा। पढ़िए पूरी ख़बर..

EXCLUSIVE VIDEO: कबाड़ चोरों के कारनामे से अंधेरे में आधा दर्जन जिले, लोगों ने कहा- `शुक्र है पूरा टावर नहीं ले गए`
X

कोरबा: 400 केवी लाइन के टावर से फुटिंग एंगल की चोरी कर लिए जाने से सरगुजा संभाग के अंबिकापुर, विश्रामपुर, कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर व प्रतापपुर क्षेत्र समेत गौरेला- पेंड्रा व मरवाही जिला व कोरबा के कटघोरा, पाली, छुरी व चैतमा समेत कई जिले में बाधित हुई बिजली आपूर्ति को वैकल्पिक व्यवस्था से बहाल कर लिया गया है। ट्रांसमिशन कंपनी का अमले को वैकल्पिक व्यवस्था बनाने में 24 घंटे का वक्त लगा।

लाइन को दुरूस्त करने में एक सप्ताह का वक्त

सोमवार की शाम से क्षतिग्रस्त 400 केवी लाइन को दुरूस्त करने का कार्य शुरू किया गया है। इसमें एक सप्ताह का वक्त लगने की संभावना है। इधर टावर से फुटिंग एंगल चोरी करने के मामले में पांच आरोपित गिरफ्तार हुए हैं। इनमें दो आरोपित विजय अग्रवाल व मो० सलमान कबाड़ का व्यवसाय करने वाले हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस ने कबाड़ दुकान से चोरी का एंगल बरामद किया है। कबाड़ी से यह पता चला कि नागेश्वर। अशोक कुमार। देवांश देवांगन ने एंगल बेचा था। पुलिस ने सलोरा व छुरी में रहने वाले इन तीनों आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। तो अपराध कबूल कर लिया। सभी आरोपितों के खिलाफ चोरी का अपराध पंजीबद्ध कर कार्रवाई की गई है।

400 केवी क्षमता लाइन के टावर से चोरों ने फुटिंग एंगल काट लिया

कोरबा के ग्राम छुरी के पास स्थित बंद वंदना बिजली संयंत्र की 400 केवी क्षमता लाइन के टावर से चोरों ने फुटिंग एंगल काट लिया। इससे टावर झुकने के साथ ही तार नीचे से गुजरी विद्युत ट्रांसमिशन कंपनी (पारेषण) की 220 केवी क्षमता लाइन की तार के संपर्क में आ गया। रविवार को पेट्रोलिंग में निकली टीम को इसकी जानकारी हुई। तब उन्होंने अप्रिय स्थिति से निपटने तत्काल बिजली आपूर्ति बंद कराया। इससे 220 केवी की विश्रामपुर क्षेत्र की दो व कोटमीकला (पेंड्रा) क्षेत्र की दो लाइन से बिजली आपूर्ति बंद हो गई। सरगुजा संभाग के अंबिकापुर, विश्रामपुर, कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर व प्रतापपुर क्षेत्र समेत गौरेला- पेंड्रा व मरवाही जिला व कोरबा के कटघोरा, पाली, छुरी व चैतमा में भी आपूर्ति प्रभावित हुआ।

ट्रांसमिशन कंपनी के तकनीकी अमले ने सुधार कार्य करने के पहले रविवार की रात में ही इन क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति करने के लिए बाइपास लाइन जोड़ने का काम शुरू किया। कटघोरा के ग्राम घुंचापुर के पास कोरबा पूर्व से छुरी जाने वाली 220 केवी लाइन को विश्रामपुर लाइन से जोड़ कर दोपहर 2.30 बजे उस क्षेत्र में बिजली आपूर्ति शुरु किया गया। इसके साथ ही मध्य प्रदेश व अन्य स्त्रोतों से कनेक्शन जोड़ कर सरगुजा क्षेत्र के उपभोक्ताओं को आपूर्ति करने का प्रयास देर रात तक जारी रहा। देखिए वीडियो..


































Next Story