Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चार शराब दुकानों में गबन की राशि 57 लाख के पार

शराब बिक्री के तीन बड़े शॉप में लाखों रुपये के गबन करने के बड़े खुलासों के बाद अब देहात के हिस्से में मौजूद सिलतरा शराब भट्टी में भी लाखों रुपये की हेरा-फेरी होने का अंदेशा बढ़ गया है। तीन जगहों पर ऑडिट रिपोर्ट बनाए जाने के बाद देहात में मौजूद सिलतरा की बड़ी दुकान में भी आठ लाख रुपये से ज्यादा की घटती होने की जानकारी अफसरों तक पहुंची है।

चार शराब दुकानों में गबन की राशि 57 लाख के पार
X

रायपुर. शराब बिक्री के तीन बड़े शॉप में लाखों रुपये के गबन करने के बड़े खुलासों के बाद अब देहात के हिस्से में मौजूद सिलतरा शराब भट्टी में भी लाखों रुपये की हेरा-फेरी होने का अंदेशा बढ़ गया है। तीन जगहों पर ऑडिट रिपोर्ट बनाए जाने के बाद देहात में मौजूद सिलतरा की बड़ी दुकान में भी आठ लाख रुपये से ज्यादा की घटती होने की जानकारी अफसरों तक पहुंची है।

गबन के मामले लगातार बाहर आने के बाद आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने अफसरों से रिपोर्ट तलब कर सख्त लहजे में कहा है, दुकानों में चोरी गई रकम का पाई-पाई का हिसाब लिया जाएगा। अफसर अपने प्रभार में रखने वाली दुकानों का ब्योरा सौपेंगे। शनिवार को गबन के मामले में आबकारी मंत्री ने अपने बयान में कहा, अफसरों की मीटिंग लेकर चर्चा होगी। सरकारी खजाने से एक रुपया भी कम नहीं होने दिया जाएगा।

ओवर रेटिंग के मामले में भी हमने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इसके बावजूद अगर कहीं कोई गड़बड़ी सामने आ रही होगी, तो सख्त कार्रवाई होगी। सिलतरा में आठ लाख रुपये से ज्यादा की घटती पकड़ी जाती है, तो चार दुकानों में ही गबन का हिसाब 57 लाख रुपये के पार होना निश्चित है। इस बारे में जिला आबकारी उपायुक्त की तरफ से फिलहाल जांच कार्रवाई की आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन सर्किल अफसरों की अपनी जांच रिपोर्ट में गबन का हिसाब जरूर पुख्ता कर रिपोर्ट देने की बात कही है।

रिपोर्ट के पहले स्टाफ की अदला-बदली !

शराब दुकानों में गबन के बड़े खुलासों के बाद स्टाफ की अदला-बदली शुरू हो गई है। सेल्स कर्मी के साथ सुपरवाइजरों का प्रभार बदल दिया गया है। कंपनी की तरफ से दोषी पाए गए कर्मियों को हटाने या फिर उनके खिलाफ थाने में शिकायत करने की फिलहाल कोई जानकारी आबकारी को नहीं दी गई है।

Next Story