Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ख़बर का असर: टर्मिनल पर प्रदेशभर के यात्रियों-बस संचालकों से हो रही अवैध वसूली बंद

हरिभूमि का संघर्ष रंग लाया, यात्रियों के लिए पिक एंड ड्राॅप 30 मिनट, बस टर्मिनल पर प्रदेशभर के यात्रियों और बस संचालकों से हो रही थी वसूली, हरिभूमि का संघर्ष रंग लाया, पांच दिनों तक लगातार खबर प्रकाशित, भाठागांव इंटरस्टेट बस टर्मिनल में बीते 10 दिनों से गेट पर बांस-बल्ली लगाकर अवैध वसूली की जा रही थी। बगैर सीरियल नंबर वाली पर्ची देकर शुल्क लिया जा रहा था। बस पकड़ने आने वाले यात्रियों को छोड़ने आए वाहनों से गेट पर एंट्री शुल्क लिया जा रहा था। इसे लेकर हरिभूमि ने लगातार 5 दिनों तक खबर प्रकाशित की, पढ़िए पूरी ख़बर...

ख़बर का असर: टर्मिनल पर प्रदेशभर के यात्रियों-बस संचालकों से हो रही अवैध वसूली बंद
X

रायपुर: भाठागांव इंटरस्टेट बस टर्मिनल में वाहनों से अवैध वसूली को लेकर प्रकाशित हरिभूमि की खबर का बड़ा असर हुआ है। टर्मिनल में आने-जाने वाले यात्री बस और ऑटो रिक्शा को शुल्क से मुक्त कर दिया गया है, यानी अब उन्हें परिसर में एंट्री करने के लिए 20 रुपए अवैध शुल्क नहीं देना होगा। यही नहीं, बस टर्मिनल में बाइक और कार से आने वालों से 30 मिनट तक रुकने के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। इससे अधिक समय रुकने पर बाइक और कार को निर्धारित शुल्क देना होगा। इसके लिए नगर निगम के अपर कमिश्नर सुनील चंद्रवंशी और रायपुर जिला अर्बन सोसाइटी के बद्रीलाल चंद्राकर समेत अन्य अफसर-कर्मचारी पहुंचे और घंटेभर निरीक्षण करने के बाद नया सिस्टम बनाया। इसे शुक्रवार से ही लागू कर दिया गया है। इसके बाद भी अगर बाइक व कार चालकों से एंट्री करने का शुल्क लिया जाएगा तो बड़ा एक्शन होगा। यही नहीं, बाइक और कार से पार्किंग शुल्क लेने के लिए शुक्रवार को नगर निगम की तरफ से पर्ची दी गई, जिसमें सीरियल नंबर और सील लगी है। इस पर्ची पर ही निर्धारित शुल्क लिया जाएगा।

टर्मिनल गेट से 20 मीटर पीछे

अफसरों के मुताबिक बस टर्मिनल के गेट पर बांस-बल्ली लगाकर वाहन चालकों से जबरन वसूली की जा रही थी। शुक्रवार को अपर कमिश्नर ने गेट से हटाकर पार्किंग स्थल पर पार्किंग का बूथ व बैनर लगाने फरमान जारी किया। इसके बाद वहां से बांस-बल्ली हटा दिए गए, लेकिन अब भी टर्मिनल के रास्ते पर गेट से 20 मीटर की दूरी पर बूथ रखकर वसूली की जा रही है।

बाइक और कार का शुल्क तय

अफसरों के मुताबिक भाठागांव बस टर्मिनल में शुक्रवार को बाइक और कार से पार्किंग शुल्क तय किया गया। बाइक से 5 रुपए और कार से 10 रुपए लिए जाएंगे। ये शुल्क भी वाहन चालक से गेट पर नहीं लिया जाएगा, बल्कि बस टर्मिनल परिसर में निर्धारित पार्किंग स्थल पर गाड़ी खड़ी करने पर लिया जाएगा। 30 मिनट तक अगर वाहन चालक गाड़ी लेकर खड़ा रहेगा तो उससे पैसे नहीं लिए जाएंगे।

बस और ऑटो रिक्शा की एंट्री निशुल्क

अफसरों के मुताबिक यात्री बसों और ऑटो रिक्शों से बस टर्मिनल में एंट्री करने पर 20 रुपए अवैध शुल्क लिया जा रहा था। करीब 10 दिनों से सभी बस व ऑटो से वसूली की जा रही थी, लेकिन शुक्रवार से वसूली बंद कर दी गई। अगली नई व्यवस्था बनने तक यात्री बस और ऑटो रिक्शा से एंट्री या पार्किंग शुल्क के नाम पर वसूली नहीं की जाएगी।

नगर निगम ने जारी की नई पर्ची

अफसरों के मुताबिक बस टर्मिनल में वाहन पार्किंग से शुल्क वसूली करने शुक्रवार को नगर निगम द्वारा नई पर्ची जारी की गई, जिसमें सीरियल नंबर लिखा है। साथ ही पर्ची में नगर निगम की सील-मुहर भी है। इसमें वाहन का शुल्क की राशि भी दर्ज की गई है। वहीं पुरानी पर्ची पर शुक्रवार से वाहन पार्किंग के पैसे की वसूली बंद कर दी गई।

पांच दिनों तक लगातार खबर प्रकाशित

दरअसल भाठागांव इंटरस्टेट बस टर्मिनल में बीते 10 दिनों से गेट पर बांस-बल्ली लगाकर अवैध वसूली की जा रही थी। बगैर सीरियल नंबर वाली पर्ची देकर शुल्क लिया जा रहा था। बस पकड़ने आने वाले यात्रियों को छोड़ने आए वाहनों से गेट पर एंट्री शुल्क लिया जा रहा था। इसे लेकर हरिभूमि ने लगातार 5 दिनों तक खबर प्रकाशित की, जिसके बाद नगर निगम के अफसर शुक्रवार को बस टर्मिनल पहुंचे और पार्किंग शुल्क को लेकर नई व्यवस्था बनाई।

नहीं लगेगा शुल्क

भाठागांव बस टर्मिनल में यात्री बसों और ऑटो रिक्शा से 20 रुपए शुल्क नहीं लिया जाएगा। बाइक और कार को 30 मिनट तक टर्मिनल परिसर में खड़े होने पर शुल्क नहीं लगेगा। इसके बाद अगर वाहन निर्धारित पार्किंग स्थल पर खड़ा मिला तो उसे शुल्क देना होगा। गेट पर शुल्क की वसूली नहीं की जाएगी।

- सुनील चंद्रवंशी, अपर कमिश्नर, नगर निगम


Next Story