Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

संयुक्त शिक्षक संघ अब रणनीतिक आंदोलन की तैयारी में, समान विचारधारा के संगठनों को भी एकजुट करने की योजना

अपनी कई लंबित मांगों को लेकर सरकारी फैसले की राह ताक रहा छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ अब रणनीतिक आंदोलन की तैयारी में है। हाल ही में संघ के प्रांतीय प्रमुखों और जिलों के पदाधिकारियों की एक बैठक हुई। इस बैठक में आगे की रणनीति पर विस्तार से चर्चा हुई। बैठक में कई अहम फैसले भी लिए गए। पढ़िए पूरी खबर-

संयुक्त शिक्षक संघ अब रणनीतिक आंदोलन की तैयारी में, समान विचारधारा के संगठनों को भी एकजुट करने की योजना
X

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ (पंजीयन क्रमांक 122202066773) के प्रांतीय प्रबंध कार्यकारिणी की महत्वपूर्ण बैठक संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन की अध्यक्षता में प्रांतीय पदाधिकारी, जिला अध्यक्ष, विकासखंड अध्यक्ष, प्रकोष्ठ के अध्यक्ष, पदाधिकारियों के उपस्थिति में स्वास्थ्य कर्मचारी संघ कार्यालय रायपुर में कोरोना नियमों के पालन के साथ संपन्न हुआ। बैठक में आने वाले पदाधिकारियों का प्रवेश द्वार पर ही हैंड सैनिटाइजर एवं मास्क प्रदान कर प्रवेश दिया गया। बैठक की शुरुआत मां सरस्वती की पूजा अर्चना से प्रारंभ हुआ। पदाधिकारियों को बैठक के एजेंडा का प्रपत्र अभिमत प्रदान करने हेतु वितरण किया गया। जिसमें उपस्थित समस्त पदाधिकारियों ने आम शिक्षकों के मतानुसार अभिमत प्रदान किया गया।

समस्त जिलाध्यक्ष एवं प्रांतीय पदाधिकारियों ने शिक्षक व संघ हित में अपना व्यक्तव्य दिया। प्राप्त अभिमत अनुसार सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि मुख्य मांग सहायक शिक्षक की वेतन विसंगति को दूर करने, क्रमोन्नति, पदोन्नति, पुराना पेंशन, प्रथम नियुक्ति से सेवा की गणना कर समस्त लाभ, लंबित अनुकंपा नियुक्ति एवं एरियर भुगतान आदि को लेकर विकासखंड, जिला व प्रदेश स्तर पर सकारात्मक, रचनात्मक चरणबद्ध कार्य एवं प्रांत स्तर पर मुख्यमंत्री जी की उपस्थिति में सम्मेलन के माध्यम से शासन के समक्ष तर्कपूर्ण व तथ्यात्मक रूप में मांगों व समस्याओं को विस्तार से रखकर निराकरण की मांग की जाएगी, जो दीर्घकालिक होगी। जिसके पश्चात शासन द्वारा सकारात्मक निर्णय नहीं लिया जाता है, तो आगे रणनीति बनाकर आंदोलन की विधिवत घोषणा की जाएगी। जिसके लिए समान विचारधारा के अन्य शिक्षक एलबी संघ से तालमेल करने की बात कही गई है। प्रांताध्यक्ष केदार जैन के ने इसकी विधिवत घोषणा करते हुए बैठक को संबोधित किया और गत दिवस मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री और अधिकारियों से हुई वार्ता की जानकारी पदाधिकारियों को प्रदान की। प्रांताध्यक्ष ने सभी पदाधिकारियों से शिक्षक व संघ हित में अपने दायित्व के निर्वहन करने की अपेक्षा व्यक्त की एवं महिला प्रकोष्ठ की प्रांताध्यक्ष ममता खालसा व प्रदेश उपाध्यक्ष माया सिंह की अगुवाई में महिला पदाधिकारियों की उपस्थिति की प्रशंसा की।

संघ के नवीन पंजीयन के पश्चात 15 मार्च तक सदस्यता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। जिसके अनुसार संघ में संरक्षक सदस्य, आजीवन सदस्य के साथ ही साधारण वार्षिक सदस्य बनाया जाएगा। आगामी सप्ताह में जिला स्तर पर एवं उसके दूसरे सप्ताह में विकासखंड स्तर में बैठक कर संघीय निर्णय अनुसार आगे कार्य निष्पादित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में प्रांताध्यक्ष सहित प्रांतीय पदाधिकारियों को पुष्पगुच्छ से एवं उपस्थित समस्त पदाधिकारियों का सम्मान किया गया। बैठक की व्यवस्था प्रांतीय कोषाध्यक्ष ताराचंद जायसवाल व टीम ने की। बैठक का गरिमामय संचालन प्रांतीय महासचिव सुभाष शर्मा के द्वारा किया गया। बैठक में उपस्थित केदार जैन प्रांताध्यक्ष, ममता खालसा अध्यक्ष प्रांतीय महिला प्रकोष्ठ, ओम प्रकाश बघेल कार्यकारी प्रांताध्यक्ष, अर्जुन रत्नाकर, गिरजा शंकर शुक्ला, सोहन यादव, माया सिंह प्रांतीय उपाध्यक्ष, रूपानंद पटेल प्रांतीय सचिव, ताराचंद जायसवाल प्रांतीय कोषाध्यक्ष, सुभाष शर्मा प्रांतीय महासचिव, विजय राव प्रांतीय प्रवक्ता, कार्तिक गायकवाड प्रांतीय संगठन मंत्री, श्यामाचरण डनसेना, राहुल ठाकुर प्रांतीय संगठन सचिव, मुकुद उपाध्याय, अमित दुबे प्रांतीय मीडिया प्रमुख, जयश्री जयसवाल, अंजली वैष्णव, अभिलाषा शुक्ला प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य, जितेंद्र सिन्हा प्रांतीय प्रभारी सहायक शिक्षक प्रकोष्ठ, गोपेश साहू संभाग अध्यक्ष रायपुर, बसंत जयसवाल संभाग अध्यक्ष बिलासपुर उपस्थित रहे। इनके अलावा जिलाध्यक्षों में सचिन त्रिपाठी सूरजपुर, संतोष पांडे जशपुर, अरुण जायसवाल बिलासपुर, विकास सिंह जांजगीर-चांपा, राजकमल पटेल रायगढ़, नित्यानंद यादव कोरबा, मनोज लहरी मुंगेली, केडी वैष्णव कवर्धा, कौशल नेताम कोण्डागाँव, पवन सिंह रायपुर, हरीश सिन्हा धमतरी मौजूद रहे। संघ की महिला प्रतिनिधियों में ममता मंडल, सीमा घोष, अनुपमा त्रिपाठी, आरती श्रीवास्तव, इंदुमती सोनवानी, अंजलि सिंह, शशिकला ध्रुव, सुधा वर्मा, कु. शकुंतला मिंज, शकुंतला शहीस, सुनीता प्रधान, सरिता निर्मलकर, विद्या शर्मा, मीना सूर्यवंशी, कौशल्या साहनी, राखी मोर, अनीता दीक्षित, नारायणी कश्यप, राना गुप्ता, अंजना साहू, श्रीवास्तव, कौशिल्या साहनी, गरिमा देवांगन, सुनीता चंद्राकर आदि भी उपस्थित रहीं। विभिन्न जिलों से उपस्थित अन्य पदाधिकारियों में रामदेव कौशिक, डमरूधर, रमेश लाल मरकाम, जय लाल पोयम, महेश पटेल, विपिन पांडे, अजय गोस्वामी, गिरवर यादव, सतीश साहू, धर्मपाल सिंह, राज कुमार सिंह, अश्वनी कोसले, वेदराम साहू, चंद्र कुमार साहू, जयंत साहू, दीपक रघुवंशी, रमेश कुमार यदु, जितेंद्र कुमार सिदार, कुमार सिंह, बलराम जोगी, मेम लाल रूप, संतोष कुमार साहू, रविंद्र कौशिक, सुनील बघेल, हरेंद्र देवांगन, हरप्रसाद भारद्वाज, शेषनारायण गजेंद्र, सुरेंद्र डेहरिया, संदीप चंद्राकर, अमित राजपूत, हर्ष यादव, चंद्रशेखर कन्नौजी, रोहित साहू, संजय पटेल, गणेश पाटील, झरिया, गुरु नारायण, अमित मंडावी, नेताम, योगेश निर्मलकर, दीपक ठाकुर, प्रदीप साहू, परमेश्वर सोमवार, शिव कौशिक, लीला बिहारी कौशिक आदि पदाधिकारी उपस्थित थे। यह जानकारी प्रांतीय संगठन महामंत्री कार्तिक गायकवाड व प्रांतीय मीडिया प्रमुख मुकुंद उपाध्याय व अमित दुबे ने दी।

Next Story