Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

VIDEO: नशे का शोरूम: हर तरह के नशे का सामान यहां था उपलब्ध, बाकायदा होती थी होम डिलीवरी भी, महिला सरगना पकड़ी गई

किराना दुकान की आड़ में नशीली दवाओं का अवैध कारोबार करने वाली शातिर महिला को पुलिस ने धर दबोचा है। महिला ने किराना दुकान की आड़ में नशे का अड्डा खोल रखा था और कोई एक-दो नहीं बीसियों प्रकार के नशे का शो रूम बना रखा था, पढ़िए नशे के काले कारोबार की पूरी ख़बर...

VIDEO: नशे का शोरूम: हर तरह के नशे का सामान यहां था उपलब्ध, बाकायदा होती थी होम डिलीवरी भी, महिला सरगना पकड़ी गई
X

बिलासपुर। शहर का जरहाभाठा मोहल्ला सुर्खियों में है। यहां नशे का ऐसा अड्‌डा चला रही थी महिला कि, एक बार को पुलिस भी चौंक गई। इन नशे के कारोबारियों के कब्जे से 514 नशीली इंजेक्शन, 71 कफ सीरप, एक हजार टैबलेट, 51 पाव देसी शराब, हुक्के का हर प्रकार सामान, चिलम, से लेकर विभिन्न तरह की जब्ती बनाई है, टीम ने तीन नाबालिग, 2 महिला समेत 9 तस्करों को गिरफ्तार किया है।

SP दीपक झा ने बताया कि सिविल लाइन क्षेत्र के जरहाभाठा मिनी बस्ती में महिला व नाबालिग लड़कों के नशीली दवाओं के कारोबार में लिप्त होने की सूचना मिली थी। इस पर रविवार को पुलिस की 31 सदस्यीय टीम बनाकर एक-एक घरों की तलाशी ली गई। जांच में पता चला कि यहां रहने वाली जुगनी बाई गिरोह की सरगना है। इस पर जरहाभाठा में सर्च ऑपरेशन चलाकर पुलिस ने महिला सरगना सहित उसके गिरोह के 10 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से नशीली दवाओं का जखीरा, कार, बाइक, स्कूटी सहित 13 लाख का सामान बरामद हुआ है।

किराना दुकान की आड़ में नशे का शो रूम:

पकड़ी गई महिला किराना दुकान की आड़ में नशीली दवाओं का अवैध कारोबार करती है। उसके गिरोह में नाबालिग लड़के व दर्जन भर युवक शामिल हैं।

इनके खिलाफ की गई कार्रवाई

पुलिस ने जुगनी कुर्रे (40), गोदावरी पात्रे (38), कृष्णा टंडन(25), मनोज कोसले, बंटी गहरवार, मनोज कुमार मिरी और बाकी नाबालिगों को पकड़ कर उनसे बिक्री रकम 86200 रुपए, 4 मोबाइल, प्रतिबंधित कप सिरप मैक्स कोफ , रेक्सोजेसिक इंजेक्शन, डिस्पोवेन, एविल इंजेक्शन, 4 स्कूटी, केटीएम बाइक, इयॉन कार सहित 13 लाख रुपए का सामान जब्त किया गया है।

महिला इस कारोबार की पुरानी शातिर:

सिविल लाइन थाना प्रभारी शनिप रात्रे ने बताया कि आरोपी जुगनी कुर्रे और गोदावरी पात्रे पहले भी नशीली दवा के मामले में पकड़ी जा चुकी हैं। जेल से छूटने के बाद वे फिर से नशे के कारोबार से जुट जाती हैं। उनके खिलाफ पूर्व के मामलों की जानकारी भी न्यायालय में पेश की जाएगी। वहीं, नाबालिग को नशे का सामान उपलब्ध कराने वालों की भी जानकारी जुटाई जा रही है। देखिए वीडियो..



Next Story