Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'दो साल में एक नया पत्थर न लगाने वाली सरकार संस्थानों के नाम बदलने के अलावा और कर क्या सकती है...'

मेडिकल कॉलेज के नाम बदलने को लेकर पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ने राज्य सरकार पर तंज कसा है. पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि 'दो साल में एक नया पत्थर न लगाने वाली भूपेश बघेल सरकार संस्थानों के नाम बदलने के अलावा और कर क्या सकती है. यह विकृत मानसिकता देखकर आज स्व.महेंद्र कर्मा जी की आत्मा भी दुःखी हो रही होगी. वो कभी स्वीकार्य नहीं करते कि स्व.बलीराम कश्यप जी का नाम हटाकर उनका नाम लिखा जाए.

दो साल में एक नया पत्थर न लगाने वाली सरकार संस्थानों के नाम बदलने के अलावा और कर क्या सकती है...
X

डॅा.रमन सिंह (फाइल फोटो)

रायपुर. मेडिकल कॉलेज के नाम बदलने को लेकर पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ने राज्य सरकार पर तंज कसा है. पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि 'दो साल में एक नया पत्थर न लगाने वाली भूपेश बघेल सरकार संस्थानों के नाम बदलने के अलावा और कर क्या सकती है. यह विकृत मानसिकता देखकर आज स्व.महेंद्र कर्मा जी की आत्मा भी दुःखी हो रही होगी. वो कभी स्वीकार्य नहीं करते कि स्व.बलीराम कश्यप जी का नाम हटाकर उनका नाम लिखा जाए.



बता दें कि स्वर्गीय बलीराम कश्यप स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय में संचालित अस्पताल अब शहीद महेंद्र कर्मा के नाम से जाना जाएगा. चिकित्सा शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन से जारी आदेश के अनुसार चिकित्सा महाविद्यालय सह अस्पताल का नामकरण शहीद महेंद्र कर्मा स्मृति चिकित्सालय डिमरापाल जगदलपुर होगा.

सांसद दीपक बैज ने 18 फरवरी 2020 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर स्वर्गीय बलीराम कश्यप स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय सह अस्पताल का नामकरण शहीद महेंद्र कर्मा के नाम पर करने की मांग की थी, जिसे शासन ने स्वीकार करते हुए अस्पताल का नामकरण शहीद महेंद्र कर्मा के नाम पर कर दिया है.





Next Story